पीएम मोदी की मां हीराबेन को लगा कोरोना टीका, प्रधानमंत्री ने ट्वीट करके खुद दी जानकारी

0 19


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मां हीराबेन को कोरोना टीके का पहला डोज लग गया है। इसकी जानकारी खुद प्रधानमंत्री मोदी ने दी है। प्रधानमंत्री ने ट्वीट करके कहा कि यह बताते हुए काफी प्रसन्नता हो रही है कि मेरी मां ने आज कोरोना वैक्सीन की पहली खुराक ले ली है। मैं हर किसी से आपके आसपास के लोगों की मदद करने और उन्हें टीका लगवाने के लिए प्रेरित करने का आग्रह करता हूं, जो टीका लगवाने के पात्र हैं। गत दिनों गुजरात सरकार के स्वास्थ्य विभाग ने हीराबा के छोटे पुत्र पंकज मोदी से हीराबेन को कोरोना का लगाने के संबंध में संपर्क किया था। पंकज मोदी ने तब कहा था कि इस संबंध में प्रधानमंत्री मोदी से चर्चा कर निर्णय किया जाएगा। हीरा बा ने गांधीनगर में कोरोना का टीका लगवाया।

बता दें कि गत तीन जनवरी को कोरोना की दो वैक्सीन सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की कोविशील्ड और भारत बायोटेक की कोवैक्सीन को आपात इस्तेमाल की मंजूरी दी गई। 16 जनवरी से टीककारण की शुरुआत हुई। पहले चरण में स्वास्थ्कर्मियों का टीकाकरण हुआ। वहीं दूसरे चरण की शुरुआत एक मार्च से हुई। अब आम लोगों को भी टीका लगाया जा रहा है। प्राइवेट अस्पतालों में टीकाकरण शुरु हो गया है। फिलहाल 60 साल से ऊपर के लोगों और गंभीर रोग वाले 45 साल से ऊपर के लोगों को टीका लगाया जा रहा है।

1 मार्च को प्रधानमंत्री मोदी ने पहली खुराक ली थी

प्रधानमंत्री मोदी ने 1 मार्च को दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में वैक्सीन की पहली खुराक ली थी। इसके बाद उन्होंने ट्वीट करके कहा था कि एम्स में COVID-19 वैक्सीन की मेरी पहली खुराक ली। उन्होंने यह भी कहा था कि डॉक्टरों व विज्ञानियों ने बहुत कम समय में बहुत सराहनीय काम किया है। उन्होंने टीकाकरण के योग्य सभी लोगों को टीका लगवाने की अपील की। मोदी ने टीका लगवाते हुए अपनी तस्वीर साझा की थी।

अब तक कुल दो करोड़ 56 लाख से ज्यादा लोगों का टीकाकरण

आमजनों के लिए टीकाकरण शुरू होने के बाद से अब तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन और भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी समेत कई नामचिन लोगों ने कोरोना टीके की पहले डोज ले ली है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश में अब तक कुल दो करोड़ 56 लाख 85 हजार 011 लोगों का टीकाकरण हो चुका है।