पिता के निधन के बाद सिर्फ एक शब्द बोलकर रोते रहते हैं मोहम्मद सिराज, भाई ने किया खुलासा 

0 92

साल 2017 के आइपीएल ऑक्शन में जब मोहम्मद सिराज को सनराइजर्स हैदराबाद ने 2.6 करोड़ रुपये में खरीदा था तो उस समय सिराज के मुंह से एक वाक्य निकला था और वो ये था कि “मैं अब अपने पिता को ऑटो-रिक्शा नहीं चलाने दूंगा।” 2017 में ही सिराज को भारतीय टीम के लिए बुलावा आया था, जब वे न्यूजीलैंड के खिलाफ टी20 सीरीज के लिए भारतीय टीम में चुने गए थे। नवंबर 2017 में राजकोट टी20 मैच में उन्होंने डेब्यू किया था। इसके बाद उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा। हालांकि, वे टीम से ड्रॉप भी हुए, लेकिन अपने पिता को ऑटो-रिक्शा चलाने नहीं दिया।

अक्टूबर 2020 में सिराज को ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए टेस्ट टीम में चुना गया और वे आइपीएल खेलने के बाद सिडनी रवाना हो गए। इसी बीच 20 नवंबर 2020 को मोहम्मद सिराज के पिता का निधन हो गया। वे लंबे समय से बीमार थे। उधर, सिराज ऑस्ट्रेलिया में क्वारंटाइन में थे। सिराज अपने पिता को अंतिम विदाई भी नहीं दे पाए। हालांकि, बीसीसीआइ ने उनके सामने प्रस्ताव रखा था कि वे अपने पिता की अंतिम विदाई के लिए भारत लौट सकते हैं, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया। अब भाई इस्माइल ने बताया है कि आखिरकार उन्होंने क्यों पिता को अंतिम विदाई नहीं दी।

एक अंग्रेजी वेबसाइट को दिए इंटरव्यू में सिराज के भाई मोहम्मद इस्माइल ने कहा है कि सिराज की बात पिता से हुई थी और कहा था, “अब्बू, मैं सलेक्ट हो गया टेस्ट टीम में, टेस्ट सीरीज खेलने ऑस्ट्रेलिया जा रहा हूं।” सिराज आइपीएल में आरसीबी का कैंपेन खत्म होने के बाद अपने बैग पैक कर रहे थे और अपने परिवार को अलविदा कहा था, लेकिन सिराज नहीं जानते थे कि उनकी मुलाकात अब पिता से नहीं होगी। यहां तक कि पिता सिराज को टेस्ट क्रिकेट खेलते हुए नहीं देख पाए। 53 साल की उम्र में उनका निधन फेफडों की बीमारी की वजह से हो गया।


भाई ने आगे बताया, “मैं टीम इंडिया के मैनेजर के संपर्क में हूं। वह बहुत अच्छे हैं। मैं विराट भाई (विराट कोहली) और रवि सर (रवि शास्त्री) का बहुत आभारी हूं, जो वहां हैं और सिराज को सांत्वना दे रहे हैं। अन्य टीम के साथी भी उनसे मिलने उनके रूम में गए हैं और सभी सपोर्ट कर रहे हैं। सिराज ने वादा किया है वह टेस्ट सीरीज में अच्छा प्रदर्शन करेगा और हमारे पिता को श्रृद्धांजिल देगा। वह पिता के लिए ये सीरीज जीतना चाहता है।”


भाई इस्माइल ने बताया, “वह (सिराज) मेरा छोटा भाई है। हम सभी उसको बहुत प्यार करते हैं। वह पिता के बहुत करीब था। अब जब भी वह कॉल करता है तो सिर्फ रोता है। हम उससे बार-बार कहते हैं कि सिराज कुछ तो बोल, लेकिन वह कुछ नहीं कहता। वह एक शब्द कहता है ‘अब्बू’ और फिर रोता है।” 26 वर्षीय तेज गेंदबाज ने आइपीएल 2020 में आरसीबी के लिए 9 मैचों में 11 विकेट चटकाए थे। सिराज पिता के निधन के बाद वापस लौटना चाहते थे, लेकिन भाई इस्माइल से उनसे मना कर दिया था।