नहीं बनाई जानी चाहिए VIP कैटेगरी’ देश में कोरोना वैक्सीन वितरण पर बोले सीएम अरविंद केजरीवाल

0 96


देश में कोरोना वैक्सीन को लेकर चर्चा गर्म है। ऐसी जानकारी सामने आ रही है कि अगले साल की शुरुआत में कोरोना वैक्सीन भारत में लोगों के लिए उपलब्ध होगी। इस मुद्दे पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन भी आशान्वित हैं कि देश में जल्द ही कोरोना वैक्सीन उपलब्ध होगी। इस बीच दिल्ली में एक कार्यक्रम के दौरान दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इस समय पूरी दुनिया के लोग कोरोना वायरस की वैक्सीन का इंतजार कर रहे हैं। ऐसे में इसकी डिलीवरी के लिए देश में वीआइपी श्रेणी नहीं बनाई जानी चाहिए। अपना पक्ष रखते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कोरोना वैक्सीन के लिए किसी प्रकार की कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए। साथ ही मुख्यमंत्री केजरीवाल ने यह भी कहा कि कोरोना योद्धाओं और कमजोर वृद्ध नागरिकों को वैक्सीन प्रशासन के लिए प्राथमिकता सूची में सबसे ऊपर रखा जाना चाहिए। वैक्सीन के वितरण के लिए कोई वीआईपी या गैर-वीआईपी श्रेणी नहीं होनी चाहिए। हर कोई समान है और सभी का जीवन महत्वपूर्ण है


वहीं, स्वास्‍थ्‍य मंत्री हर्षवर्धन का कहना है कि वैक्‍सीन की दिशा में तेजी से काम हो रहा है। हम वैक्‍सीन को बनाने में विश्‍व के किसी भी देश से पीछे नहीं हैं। उन्होंने आशा जताई है कि 2021 की शुरुआत में देश में वैक्सीन लोगों के लिए उपलब्ध हो जाएगी। हर्षवर्धन ने यह भी कहा है कि कोरोना वैक्‍सीन सबसे पहले स्वास्थ्यकर्मियों और बुजुर्गों (65 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों) को प्राथमिकता दी जाएगी।


बता दें कि अमेरिका, चीन, जर्मनी, ब्रिटेन और रूस में कोरोना वैक्सीन पर तेजी से काम हो रहा है। भारत में भी देशी वैक्सीन का ट्रायल तेजी चरण में प्रवेश कर गया है। रूस और अमेरिका की वैक्सीन के बारे में कहा जा रहा है कि ये 90 फीसद से अधिक कारगर हैं। एक कंपनी का यहां तक दावा है कि यह जल्द ही बाजार में आ जाएगी।