नए साल में नई उम्‍मीद, बिहार के नगराें व कस्‍बों की बढ़ेगी रोड कनेक्टीविटी, 1505 नए रूटों पर चलेंगी बसें

0 81


छोटे शहरों और कस्बों से राजधानी पटना समेत दूसरे शहरों की कनेक्टिविटी अब और मजबूत होगी। परिवहन विभाग ने बसों के परिचालन के लिए 1505 नए रूटों का निर्धारण किया है। नए रूटों के निर्धारण के लिए परिवहन विभाग ने प्रस्ताव दिया गया था, जिस पर परिवहन मंत्री शीला कुमारी ने अपनी सहमति दे दी है। गुरुवार को इसका नोटिफिकेशन भी जारी कर दिया गया। अब इन नए मार्गों पर प्राइवेट बसों के परिचालन के लिए परमिट मिल सकेगा।

छूटे हुए रूट भी जोड़े जाएंगे

परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने बताया कि राज्य में पहले से 3661 रूट नोटिफाई थे। नए 1505 रूटों के बाद कुल संख्या 5166 हो गई है। नए मार्गों के निर्धारण के बाद भी कोई रूट छूट गया है, तो उसे भी जोड़ा जाएगा। इस संबंध में सभी जिला परिवहन पदाधिकारी को निर्देश दिया गया है।

आठ जनवरी तक मांगी गई आपत्ति


परिवहन विभाग ने नए रूटों की सूची विभागीय वेबसाइट पर भी अपलोड कर दी है। इस पर आठ जनवरी, 2021 तक आपत्ति या सुझाव लिखित रूप में मांगा गया है।

ऑनलाइन जारी होता है परमिट

डेढ़ हजार से अधिक नए रूटों पर प्राइवेट बसों के परिचालन के लिए परमिट भी जल्द जारी किए जाएंगे। इसके लिए भी आवेदन की प्रक्रिया जल्द शुरू होगी। फिलहाल सभी प्रकार का परमिट ऑनलाइन जारी किया जा रहा है।


सभी प्रमुख शहरों को किया शामिल

नए रूटों में छोटे शहरों और कस्बों को तो जोड़ा ही गया है, पटना, मुजफ्फरपुर, भागलपुर, गया, पूर्णिया, दरभंगा, रक्सौल, गोपालगंज, छपरा से भी अन्य प्रमुख शहरों को जोड़ा गया है। कुछ रूटें 25-30 किलोमीटर की भी चिह्नित की गई हैं, तो छोटे-छोटे इलाकों को जोडऩे का काम करेंगी। इसके अलावा 250-300 किमी लंबी रूट को भी परमिट दिया गया है। रूट के बीच आने वाले प्रमुख पड़ावों का भी जिक्र नोटिफिकेशन में विस्तार से किया गया है।