दौर के रिहायशी इलाके में तेंदुआ घुसने से अफरातफरी।

0 57


PM Kisan Samman Nidhi प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना के तहत केंद्र सरकार लाभार्थी किसानों के खाते में जल्द ही 2000 रुपये की आठवीं किस्त जारी करने वाली है। माना जा रहा है कि अगली किस्त होली से पहले डालकर सरकार किसानों को तोहफा दे सकती है। बता दें कि हर वित्त वर्ष में सरकार किसानों को 6,000 रुपये की मदद देती है। किसानों के खाते में ये रकम सीधे ट्रांसफर की जाती है। हर 4 महीने के अंतराल पर सरकार 2-2 हजार रुपये की 3 किस्त किसानों को भेजती है।

चालू वित्त वर्ष की सभी तीनों किस्त सरकार किसानों के बैंक खातों में डाल चुकी है। लेकिन, इस बार की किस्त जारी किए जाने के पहले सरकार की तरफ से उन किसानों को लिस्ट से बाहर करने का फैसला लिया गया है जो अपात्र हैं और गलत तरीके से लाभ ले रहे हैं। इससे उन सही किसानों का हक मारा जा रहा है जो सच में इस श्रेणी में आते हैं। आठवीं किस्त जारी करने से पहले योजना का लाभ उठा रहे अपात्र किसानों (ineligible farmers) को इस योजना से बाहर करने का फैसला किया है।


किसानों के आधार कार्ड का भी वेरिफिकेशन होगा

बता दें कि इस बार किसानों के आधार का वेरिफिकेशन भी होगा। इस दौरान गड़बड़ी मिलने पर किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि की राशि का लाभ नहीं दिया जाएगा। आपके आधार में किसी प्रकार की गड़बड़ी है तो 31 मार्च तक ठीक करा लें, नहीं तो आपकी भी आठवीं किस्त रुक सकती है। आधार कार्ड में हुई गड़बड़ी को आप ऑनलाइन भी सुधार सकते हैं। तो आइए यहां जानते हैं कि कैसे आधार कार्ड (Aadhaar card) में हुई गड़बड़ी को ठीक करें- -किसान अपने आधार कार्ड की फोटो कॉपी लेकर बैंक शाखा में जाना होगा।

  • ध्यान रखें आप उसी बैंक और ब्रांच में जाएं, जिसका अकाउंट आपने योजना में दिया है।

-अधिकारी से बोलें कि आपको बैंक अकाउंट आधार से लिंक करवाना है।

-वह कर्मचारी अपने खाते को आधार से लिंक कर देगा। इसके लिए आपसे कोई चार्ज भी नहीं लिया जाएगा।

गलत जानकारी बिल्कुल न भरें

हाल ही में केंद्र सरकार ने उन किसानों पर कार्रवाई शुरू कर दी है जिन्होंने गलत जानकारी देकर किसान सम्मान निधि का फायदा उठाया था। ऐसे में किसान सम्मान निधि के लिए तय गाइडलाइंस को जानना जरूरी हो जाता है। किसान सम्मान निधि का लाभ गाइडलाइंस के तहत चुनिंदा किसानों को ही मिलता है। इसलिए हम आपको बता रहे हैं कि गाइडलाइंस के मुताबिक कौन-कौन से किसान इसका लाभ उठा सकते हैं।


किसान सम्मान निधि का कौन हकदार नहीं

1- खेत पर मजदूरी करने वाले किसानों को योजना का लाभ नहीं मिलेगा

2- सरकारी या रिटायर्ड कर्मचारी भी योजना के सही हकदार नहीं

3- मौजूदा मंत्री के अलावा पूर्व मंत्री, सांसद और विधायक को नहीं मिलेगा फायदा

4- प्रोफेशनल रजिस्टर्ड डॉक्टर, इंजीनियर, वकील, सीए को भी नहीं मिलेगा लाभ

5- इनकम टैक्स देने वाले किसान परिवार को भी नहीं मिलेगा फायदा


6- 10 हजार से ज्यादा पेंशन पाने वाले किसान भी हकदार नहीं

7- खेती की जमीन का दूसरे कामों में इस्तेमाल करने वाले किसानों को भी फायदा नहीं

कैसे कराएं रजिस्ट्रेशन

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया काफी आसान है। आप पंचायत सचिव, पटवारी या कॉमन सर्विस सेंटर के लिए इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसके अलावा आप खुद भी इस योजना के लिए रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। ये रजिस्ट्रेशन घर बैठे किया जा सकता है।


1-PM Kisan की अधिकारिक वेबसाइट pmkisan.gov.in पर विजिट करें

2-अब Farmers Corner पर जाइए

3-New Farmer Registration पर क्लिक करें

4- आधार नंबर दर्ज करने के बाद कैप्चा कोड भरें

5- अपने राज्य की जानकारी दें और पूरा व्यक्तिगत विवरण भरें

6- बैंक अकाउंट की जानकारी और खेत से जुड़ी जानकारी भरने के बाद फॉर्म सेव कर लें

11 करोड़ से ज्यादा किसानों को योजना का लाभ


प्रधानमंत्री मोदी ने किसान सम्मान निधि योजना की शुरुआत 1 दिसंबर 2018 को की थी। इस योजना के तहत लाभार्थी किसानों को 6 हजार रुपये प्रति साल 3 बराबर किस्तों में दिए जाते हैं। अब तक इस योजना का फायदा 11 करोड़ से ज्यादा किसानों को मिल चुका है। किसान सम्मान निधि का फायदा लेने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की व्यवस्था है।