देश में लगातार छठे दिन बढ़े कोरोना के मामले, महाराष्ट्र में फिर तेजी से फैल रहा संक्रमण; सरकार की बढ़ी चिंता

0 12


देश के कई राज्यों में कोरोना वायरस फिर तेजी से अपना पांव पसारने लगा है। इस कारण देश में बीते 6 दिनों से कोरोना के मामलों में तेजी आई है। आज लगातार छठे दिन देश में कोरोना वायरस के मामलों में उछाल देखा गया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 14,264 नए मामले सामने आए हैं। इस दौरान 90 लोगों की मौत हुई है। इसके साथ ही देश में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या भी बढ़ रही है। जिससे सरकार चिंतित है।

सरकार की बढ़ी चिंता

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, केरल और महाराष्ट्र में देश के 74% से अधिक सक्रिय मामले हैं। छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश में भी दैनिक मामलों में तेजी आई है। पंजाब और जम्मू-कश्मीर में भी रोज नए मामलों में तेजी देखी जा रही है। मुंबई, पुणे और विदर्भ के कुछ ज़िलों में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले पिछले कुछ दिनों से तेज़ी से बढ़ रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में बढ़ते संक्रमण ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है।


केंद्र सरकार ने इन राज्यों को आरटी-पीसीआर परीक्षणों के बढ़ते अनुपात पर ध्यान केंद्रित करके परीक्षण में सुधार करने के लिए काम करने की सलाह दी है। इसके साथ ही स्वास्थ्य मंत्रालय ने सभी नेगेटिव रैपिड टेस्ट रिजल्ट को अनिवार्य रूप से आरटी-पीसीआर टेस्ट कराने के निर्देश दिए हैं।

सक्रिय मामलो में तेजी

देश में कोरोना वायरस के सक्रिय मामले बढ़ते जा रहे हैं। बीते 24 घंटों में देश में कोरोना के 2507 एक्टिव केस बढ़े हैं। इससे एक्टिव दर बढ़कर 1.32% हो गई है। देश में बीते 24 घंटों में कोरोना से 11,667 लोग ठीक हुए हैं। इससे रिकवरी दर 97.25% हो गई है। भारत की कोरोना मृत्यु दर फिलहाल 1.42% है।


महाराष्ट्र में 6,281 नए मामले

महाराष्ट्र में कोरोना का संक्रमण ब़़ढता ही जा रहा है। राज्य में शनिवार को 6,281 नए मामले सामने आए और 40 लोगों की मौत हो गई। राज्य में अबतक 20.93 लाख संक्रमित पाए जा चुके हैं और 51,753 लोगों की मौत हो चुकी है। अमरावती जिले में सबसे ज्यादा मामले मिल रहे हैं, जिसको देखते हुए वहां लॉकडाउन को सोमवार तक के लिए बढ़ा दिया गया है।


महाराष्ट्र से कर्नाटक आने पर निगेटिव कोरोना रिपोर्ट जरूरी

कर्नाटक सरकार ने महाराष्ट्र से आने वाले लोगों के लिए निगेटिव आरटी–पीसीआर रिपोर्ट को अनिवार्य बना दिया है। राज्य सरकार ने शनिवार को इसकी घोषषणा करते हुए कहा कि कोरोना की जांच रिपोर्ट 72 घंटे से ज्यादा पुरानी नहीं होनी चाहिए।

देश में अब तक कुल 1.09 करोड़ मामले आए

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, देश में कोरोना वायरस के अब तक कुल 1 करोड़ 9 लाख 91 हजार 651 मामले सामने आ चुके हैं। हालांकि, इसमें से 1 करोड़ 6 लाख 89 हजार 715 लोग रिकवर हो चुके हैं। देश में कोरोना वायरस के सक्रिय मामले बढ़कर 1 लाख 45 हजार 634 हो गए हैं। भारत में कोरोना से अब तक कुल 1 लाख 56 हजार 302 लोगों की मौत हो चुकी है।


देश में 21 करोड़ से ज्यादा कोरोना टेस्ट

देश में कोरोना की जांच का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है। देश में अब तक 21 करोड़ से ज्यादा कोरोना जांच की जा चुकी है। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (Indian Council of Medical Research, ICMR) की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक, देश में 20 फरवरी, 2021 तक 21,09,31,530 सैंपलों की जांच हो चुकी है, जिनमें से 6,70,050 टेस्ट एक दिन में किए गए हैं।

देश में अब तक 1.10 करोड़ से अधिक टीकाकरण

देश में कोरोना वायरस के खिलाफ टीकाकरण जारी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार, देश में अब तक 1 करोड़ 10 लाख 85 हजार 173 लोगों को टीका लगाया चुका है। इसमें से बीते 24 घंटों में 4 लाख 32 हजार 931 लोगों को टीका लगाया गया है।