देश में फिर लौट रहा कोरोना का खतरा, महाराष्ट्र में सबसे तेज फैल रहा वायरस

0 37


Coronavirus in India, महाराष्ट्र, केरल समेत देश के पांच राज्यों में बढ़ते कोरोना के मामलों ने एक बार फिर से देश की चिंता बढ़ा दी है। महाराष्ट्र में कोरोना सबसे तेजी से फैल रहा है। संक्रमण के मामले में महाराष्ट्र का औसत राष्ट्रीय औसत से कहीं ज्यादा है। महाराष्ट्र में अचानक बढ़ते मामलों से देश में एक बार फिर से कोरोना का खतरा बढ़ता नजर आ रहा है। इसका सबूत बीते सात दिनों में आए कोरोना के मामले बता रहे हैं।

देश में बीते 7 दिनों में 1 लाख से अधिक मामले

भारत में बीते सात दिनों में कोरोना के मामलों में अचानक तेजी देखी गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के हफ्ते भर के आंकड़ों पर गौर करें तो ये बात साबित भी हो जाती है। देश में बीते हफ्ते(15-21 फरवरी, 2021) में कोरोना के कुल मिलाकर 1,00,990 मामले दर्ज किए गए हैं। बीते पांच सप्ताह में ऐसा पहली बार हुआ है कि देश में एक हफ्ते में एक लाख से ज्यादा मामले सामने आए हों। इससे पहले वाले हफ्ते में कोरोना के 77,284 मामले सामने आए थे। ऐसे में इससे पहले हफ्ते की तुलना में इस सप्ताह कोरोना के मामले 34 फीसद तक बढ़ गए हैं। जो कोरोना के बढ़ते खतरे को साफ दिखाते हैं।


कितने मामले बढ़े ?

राज्यों की बात करें तो सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र में बढ़े हैं। यहां इस हफ्ते 81 फीसद तक कोरोना मामले बढ़े हैं। देश में बीते सात दिनों में कोरोना मामलों का औसत भी बढ़ा है। जहां पिछले हफ्ते सात दिनों का औसत 11,430 था तो इस हफ्ते ये बढ़कर 12,770 हो गया है।

देश के 74 फीसद एक्टिव केस महाराष्ट्र और केरल में

देश में कोरोना से सक्रिय मामलों की संख्या लगातार बढ़ रही है, जिसको लेकर सरकार चिंतित है। देश में कोरोना के सभी एक्टिव केस में से 74 फीसद मामले अकेले महाराष्ट्र और केरल में है। इसके अलावा छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, पंजाब और जम्मू-कश्मीर में भी कोरोना मामले बढ़े हैं।


संक्रमण के मामले में महाराष्ट्र सबसे आगे

देश में जिन पांच राज्यों में इस हफ्ते कोरोना के मामले सबसे अधिक हैं, वहां साप्ताहिक पुष्टि की दर राष्ट्रीय औसत 1.79 से अधिक है। इनमें महाराष्ट्र की दर सर्वाधिक है, जो 8.10 है। सरकार ने इन सभी राज्यों को विशेष उपाय करने के निर्देश दिए हैं। इसमें आरटी-पीसीआर टेस्ट की संख्या बढ़ाने पर जोर दिया गया है।