देशभर में गुरु तेग बहादुर को किया जा रहा याद, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दी श्रद्धांजलि

0 76


सिखों के नौवें गुरु गुरु तेग बहादुर की याद में मंगलवार को शहीदी दिवस मनाया जा रहा है। इस मौके पर देशभर में हर साल उनकी याद में आयोजन किए जाते हैं। हालांकि इस साल कोरोना महामारी के कारण काफी सतर्कता बरती जा रही है, इसलिए हमेशा की तरह इस बार आयोजन नहीं किए जा रहे हैं। बता दें कि राजधानी दिल्ली में कोरोना के मामलों में फिर से इजाफा दर्ज किया जा रहा है, जिसे लेकर केंद्र और राज्य सरकार दिशा-निर्देशों को लेकर सख्ती बरत रही है। यही कारण है कि इस साल सभी त्योहारों पर हर साल की तरह रौनक नहीं दिखाई दी।

क्यों मनाया जाता है शहीदी दिवस

1675 में धर्म, मानव मूल्यों, आदर्शों और सिद्धांतों की रक्षा के लिए गुरु तेग बहादुर ने अपने जीवन का बलिदान दिया था। इस दिन को हर साल शहीदी दिवस के रूप में मनाया जाता है और उनके बलिदान को याद किया जाता है।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दी श्रद्धांजलि
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शहीदी दिवस पर गुरु तेग बहादुर को श्रद्धांजलि अर्पित की है। उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा, ‘गुरु तेग बहादुर ने सच्चाई विश्वास और लोगों के अधिकारों के लिए बड़ा बलिदान दिया। यही कारण है कि उनके अनुयायी उन्हें प्यार और सम्मान से हिंद दी चादर कहकर बुलाते हैं।’ राष्ट्रपति ने कहा कि मानवता की सच्ची सेवा के लिए उनके द्वारा दिए गए बलिदान हमें प्रेरित करते हैं। उन्होंने कहा कि गुरु तेग बहादुर की शिक्षा और उनके कार्य हमेशा हम सब में प्यार और देशभक्ति को फैलाते रहेंगे।