दूसरे टेस्ट के लिए दवाब में किया गया प्लेइंग इलेवन का चयन- संजय मांजरेकर

0 87


बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के दूसरे मुकाबले के लिए बीसीसीआइ ने टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन का एलान किया। मेलबर्न में खेले जाने वाले इस बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच के लिए टीम में दो नए चेहरे को मौका दिया गया जो डेब्यू करेंगे। पहले मैच की तुलना करें तो इस बार प्लेइंग इलेवन में चार बदलाव देखने को मिलेंगे। पृथ्वी शॉ को शुभमन गिल ने रिप्लेस किया है तो वहीं मो. शमी की वजह मो. सिराज टीम में शामिल किए गए हैं।

प्लेइंग इलेवन में रिद्धिमान साहा की जगह टीम में विकेटकीपर-बल्लेबाज के तौर पर रिषभ पंत को मौका मिला है तो विराट कोहली की जगह रवींद्र जडेजा टीम में आए हैं जो स्पिन गेंदबाजी में आर अश्विन का साथ निभाएंगे। वहीं तेज गेंदबाज के तौर पर जसप्रीत बुमराह व उमेश यादव टीम में हैं ही। टीम के इस चयन के बाद पूर्व भारतीय क्रिकेटर संजय मांजरेकर ने इसे अंडर प्रेशर सेलेक्शन करार दिया। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि, दूसरे टेस्ट के लिए भारतीय टीम का चयन साफ तौर पर दवाब में किया गया है। इंग्लैंड की तरह से यहां पर भी सबकुछ कवर करने की कोशिश की गई है। सेलेक्शन हो गया और अब एक्शन की बारी है। गुड लक टीम इंडिया।

वहीं दूसरी तरफ पूर्व भारतीय बल्लेबाज आकाश चोपड़ा ने भी टीम के चयन पर हैरानी जताते हुए कहा कि, विराट कोहली की जगह किसी बल्लेबाज को नहीं बल्कि रवींद्र जडेजा का चुना गया। उन्होंने भी ट्वीट करते हुए टीम के सभी बदलावों का जिक्र किया।

इसके अलावा कमेंटेटर हर्षा भोगले ने एक ही मैच के बाद रिद्धिमान साहा को टीम से बाहर किए जाने की आलोचन का और लिखा कि, उन्हें ड्रॉप करने का फैसला सही नहीं है। उन्होंने विकेटकीपर के स्थान के लिए म्यूजिकल चेयर खेलने की आलोचना की।