दूसरी कक्षा तक कोई होमवर्क नहीं, जानें 12वीं तक कितना दे सकते हैं होमवर्क

0 67


राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 को देश भर में लागू किये जाने के लिए उठाये जा रहे कदमों के बीच केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय द्वारा ‘पॉलिसी ऑन स्कूल बैग 2020’ डॉक्यूमेंट जारी किया गया है। मंत्रालय के विद्यालय शिक्षा और सारक्षता विभाग द्वारा तैयार इस डॉक्यूमेंट में स्कूलों के विभिन्न कक्षाओं के स्टूडेंट्स के लिए स्कूल बैक के अधिकतम वजन से लेकर कक्षाओं में ही सिलेबस के अधिकतम हिस्से को कवर करने और होमवर्क दिये जाने को लेकर कई महत्वपूर्ण सुझाव दिये गये हैं। मंत्रालय द्वारा 3 दिसंबर 2020 को जारी ‘स्कूल बैग पॉलिसी 2020’ डॉक्यूमेंट के अनुसार स्कूलों में दूसरी कक्षा तक के स्टूडेंट्स के लिए कोई भी होमवर्क न दिये जाने का प्रावधान किया गया है। साथ ही, तीसरी कक्षा से लेकर पांचवीं कक्षा तक के स्टूडेंट्स को हर हफ्ते अधिकतम 2 घंटे का ही होमवर्क दिये जाने का सुझाव दिया गया है।

छात्र अपने फेसबुक या ट्वीटर पर लॉगिन करके हैशटैग #EducationMinisterGoesLive को फॉलो करते हुए सवाल पूछ सकते हैं।

मिडिल स्कूल के लिए होमवर्क की अवधि

शिक्षा मंत्रालय के पॉलिसी डॉक्यूमेंट के अनुसार स्कूलों में मीडिल कक्षाओं यानि छठीं से लेकर आठवीं तक के स्टूडेंट्स के लिए अधिकतम एक घंटा का होमवर्क दिया जाना चाहिए। इस प्रकार सप्ताह में होमवर्क की अवधि 5 घंटे या 6 घंटे से अधिक नहीं होनी चाहिए।

सेकेंड्री और हायर सेकेंड्री के लिए होमवर्क की अवधि

इसी प्रकार, पॉलिसी डॉक्यूमेंट में सेकेंड्री और हायर सेकेंड्री कक्षाओं के लिए भी अधिकतम होमवर्क अवधि से सम्बन्धित प्रावधान किये गये हैं। इन क्लासेस के स्टूडेंट्स को 2 घंटे प्रतिदिन से अधिक का होमवर्क नहीं दिया जाना चाहिए, जो कि साप्ताहिक रूप से 10 से 12 घंटे होते हैं। इसके लिए शिक्षकों को कम होमवर्क घंटों के अनुसार प्लान बनाना होगा।