दीपावली का मना जश्न, खूब हुआ धूमधड़ाका

0 88


रोशनी और प्रेम-सद्भाव का प्रतीक दीपावली पर्व रविवार को नगर एवं ग्रामीण क्षेत्र में परंपरागत ढंग से मनाया गया। जहां नगर झालरों व दीपों जगमग नजर आया तो रात के समय में शहर में जमकर आतिशबाजी छोड़कर धूम धड़ाका हुआ। शाम होते ही लोगों के घर दीयों व इलेक्ट्रिक झालरों से जगमगा गए। दीपोत्सव पर तरह-तरह से लोग घरों से सजाते नजर आए। देर रात तक दीपावली का जश्न चलता रहा। कोई आतिशबाजी का आनंद लेता दिखा तो कोई दूसरों के घर बधाई देने के लिए पहुंचा। हीमपुरदीपा क्षेत्र में कोरोनाकाल के बीच इस बार दीपोत्सव परंपरागत सादगी पूर्वक मनाया गया। ग्रामीणों ने सुबह से व्रत रखकर हवन, यज्ञ और रात्रि में लक्ष्मी की पूजा- अर्चना की। वही महिलाओं ने अपने घरों में मनमोहक रंगोलियां सजाई। रतनगढ़ क्षेत्र में भी दीवाली का पर्व क्षेत्र में हर्षोल्लास और धूमधाम के साथ मनाया गया। गांव रामोरूपपुर, धारूपुर, शिमला, शहबाजपुर, हैजरपुर भट्ट, लावदीपुर, हीमपुर पृथ्या, बहादरपुर सहित आदि गांवों में दीपावली पर्व हर्षोल्लास और धूमधाम के साथ मनाया गया।

दीपावली के मौके पर विधि विधान से लक्ष्मी गणेश का पूजन किया गया। घरों एवं प्रतिष्ठानों को मिट्टी के दीपो, मोमबत्ती, बिजली की रंग बिरंगी झालरों व रंगोली से सजाया गया। वहीं मिठाई व उपहारों का आदान प्रदान की गई। हिन्दू इंटर कालेज के मैदान में आतिशबाजी की दुकानें लगाई गईं। नगीना धामपुर रोड स्थित मां काली व मां दुर्गा में मंदिर को माटी के दीपो से भव्य रूप से सजाकर मंदिर के बाहर जयश्रीराम के नाम की आकृति दीपो से सजाई गई।