दिल्‍ली में कौवों की मौत से हड़कंप, कोरोना के बीच बर्ड फ्लू के दस्‍तक की आशंका

0 88


कोरोना महामारी के बीच दिल्‍ली में कुछ कौवों की मौत से प्रशासन के स्‍तर पर हड़कंप की स्‍थिति बनी हुई है। दिल्‍ली के मयूर विहार में करीब 20 कौवों की मौत के बाद प्रशासन पूरी तरह अलर्ट हो गया है। पूर्वी दिल्ली के मयूर विहार फेज- तीन स्थित सेंट्रल पार्क में कौवे मरे मिले हैं। वहीं कुछ कौवे बीमार दिख रहे हैं। यहां के स्‍थानीय लोग बर्ड फ्लू की आशंका के कारण दहशत में हैं। कोरोना महामारी के बीच कुछ राज्‍यों में बर्ड फ्लू ने भी अपने पांव पसारने शुरू कर दिए हैं। इस कारण दिल्‍ली सरकार पूरी तरह अलर्ट नजर आ रही थी। हर जगह पक्षियों पर नजर रखी जा रही थी खास कर बाहर से आने वाले पक्षियों पर प्रशासन ज्‍यादा अलर्ट है। यह भी बता दें कि पिछले कुछ जगहों पर सरकार ने मुर्गों की जांच के लिए भी सैंपल लिए थे।

इधर, पूर्वी जिलाधिकारी अरुण मिश्रा ने बताया कि कुछ सैंपल जमा करके जांच के लिए जालंधर भेजे गए हैं। वेटरनरी विभाग के डॉक्टर 24 घंटे मामले की निगरानी कर रहे हैं। हालांकि अभी फ्लू की पुष्टि नहीं हुई है, देखा जा रहा है कौवों की मौत कैसे हुई है।


इधर, अधिकारियों का कहना है कि अब तक बर्ड फ्लू के कारण चिड़ियाघर के एक भी पक्षी की मौत नहीं हुई है। लगातार कड़ी सतर्कता बरती जा रही है। अधिकारी व डाॅॅक्टरों की टीम लगातार इसकी जांच भी कर रहे हैं। वहीं, देश के अन्य राज्यों से दिल्ली पहुंचे पक्षियों की निगरानी भी की जा रही है। अब तक बाहर से आए पक्षी की भी कोई मौत नहीं हुई है। कर्मचारी लगातार तालाब व अन्य स्थानों पर इसकी जांच में लगे हुए हैं।

मुर्गा मंडी में गंदगी के बीच अवैध रूप से काटे जा रहे मुर्गे

गाजीपुर मुर्गा व मछली मंडी में गंदगी की भरमार है। अवैध तरीके से मुर्गे और मछलियों को काटा जा रहा है। सर्वोच्च न्यायालय के निर्देश पर दिल्ली बूचड़खाना निगरानी समिति द्वारा गठित पांच सदस्यीय उप समिति ने अपनी रिपोर्ट में निरीक्षण के दौरान की विचलित कर देने वाली तस्वीरें लगाई है। जिसमें कुछ लोग मंडी में मुर्गों को पैर से कुचलते दिख रहे हैं। समिति ने सिफारिश की है कि मंडी में अवैध रूप से मुर्गा व मछली काटने की गतिविधि को रोका जाए