दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे के चालू होते ही फर्राटा भरेंगे पचास हजार वाहन, 45 मिनट में पूरा होगा सफर

0 45


Delhi-Meerut Expressway करीब पांच हजार करोड़ की लागत से बन रहे प्रधानमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे होली से पहले शुरू हो जाएगा। इससे गाजियाबाद से मेरठ आना-जाना बेहद आसान हो जाएगा। गाजियाबाद से मेरठ जाने में सिर्फ 25 मिनट लगेंगे, जबकि दिल्ली से मेरठ का सफर 45 मिनट में पूरा होगा। दो चरणों का काम पूरा होने के साथ ही वाहन दौड़ रहे हैं तो दो अन्य का काम अंतिम दौर में चल रहा है। दूसरे चरण का काम 95 फीसद पूरा हो गया है तो चौथे का काम भी अंतिम पूरा होने के करीब है।

कुछ यूं घूमेगा एक्सप्रेस-वे

निजामुददीन, दिल्ली से यूपी गेट आकर डासना जाना होगा। डासना से मेरठ के लिए वाया परतापुर जाना होगा। मुख्य रूप से दिल्ली से मेरठ के बीच की दूरी 60 किलोमीटर है। तीसरे चरण में डासना से हापुड़ तक बनाए गए हिस्से को चार से छह लेन करते हुए इसी प्रोजेक्ट में जोड़ा गया है। इससे हापुड़ की कनेक्टिविटी बेहतर हुई है। एक्सप्रेस-वे के खुलते ही पहले दिन से पचास हजार और दो महीने बाद इस पर करीब एक लाख वाहनों का आवागमन होगा। डीएमई का टोल डासना में बनाया जा रहा है।

एनएचएआइ की परियोजना के निदेशक मुदित गर्ग ने बताया कि चिपियाना और डासना आरओबी को बनने में अभी दो महीने लग सकते हैं। इस बीच इंटरचेंज के जरिये एक्सप्रेस-वे को खोलने की तैयारी की जा रही है। 27 फरवरी तक निर्माण पूरा किए जाने का लक्ष्य है। होली से पहले प्रोजेक्ट उद्घाटन प्रस्तावित है।