दिल्ली में विपक्ष की मीटिंग, 20 पार्टियां होंगी शामिल: स्टालिन की अगुवाई में एक महीने में दूसरी बार महासभा; 2024 की रणनीति पर होगी चर्चा

6

नई दिल्ली27 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत, झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन और आरजेडी अध्यक्ष तेजस्वी यादव भी इस मीटिंग में रहेंगे।

लोकसभा 2024 के चुनावों को देखते हुए विपक्षी दल एकजुट होने की कोशिश में लगे हुए हैं। दिल्ली में आज तमिलनाडु के मुख्यमंत्री और DMK अध्यक्ष एमके स्टालिन की अध्यक्षता में एक महासभा होने वाली है। इसमें करीब 20 दलों के नेताओं के शामिल होने की संभावना है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन और आरजेडी अध्यक्ष तेजस्वी यादव भी इस मीटिंग में रहेंगे।

लोकसभा चुनाव से पहले विपक्षी को एकजुट करने के लिए डीएमके दूसरी बार इस तरह की कोशिश कर रही है। इससे पहले स्टालिन के 70वें जन्मदिन पर 1 मार्च को चेन्नई में हुए समारोह में विपक्ष के नेता एकजुट हुए थे।

एमके स्टालिन के जन्मदिन पर 1 मार्च को विपक्षी दलों के नेताओं ने एकता का संदेश दिया था।

एमके स्टालिन के जन्मदिन पर 1 मार्च को विपक्षी दलों के नेताओं ने एकता का संदेश दिया था।

डीएमके सांसद ने मीटिंग को गैर-राजनीतिक बताया
एनडीटीवी की रिपोर्ट्स के मुताबिक, अरविंद केजरीवाल, ममता बनर्जी और तेलंगाना के सीएम के. चंद्रशेखर राव ने भी अपनी-अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं से इस महासभा में शामिल होने की अपील की है।

राजनीतिक विशेषज्ञों का मानना है कि स्टालिन की ओर से भाजपा के खिलाफ एक मजबूत गठबंधन बनाने की कोशिश की जा रही है। हालांकि, डीएमके सांसद पी विल्सन का कहना है कि ये मीटिंग पूरे भारत में सामाजिक न्याय आंदोलन को आगे ले जाने के लिए है।

अब पढ़िए 1 मार्च को विपक्षी नेताओं की मीटिंग पर क्या हुआ था?
तमिलनाडु के मुख्यमंत्री और DMK अध्यक्ष एमके स्टालिन के 70वें जन्मदिन पर चेन्नई में हुए समारोह में विपक्ष के नेता एकजुट हुए। समारोह में कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा- मैंने यह कभी नहीं कहा कि कौन प्रधानमंत्री बनेगा या कौन नेतृत्व करेगा। यह सवाल है ही नहीं, मैं तो यही चाहता हूं कि हमें साथ मिलकर लड़ना चाहिए।

जम्मू-कश्मीर के पूर्व CM फारूक अब्दुल्ला ने खड़गे की बात का समर्थन करते हुए कहा कि हमें मिलकर चुनाव लड़ना चाहिए। यह बाद में तय कर लेंगे कि प्रधानमंत्री कौन बनेगा।

मल्लिकार्जुन खड़गे पिछले साल शशि थरूर को चुनाव में हराकर कांग्रेस अध्यक्ष बने थे।

मल्लिकार्जुन खड़गे पिछले साल शशि थरूर को चुनाव में हराकर कांग्रेस अध्यक्ष बने थे।

खड़गे बोले- सभी विपक्षी दल साथ आएं
कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा- तमिलनाडु में कांग्रेस-DMK गठबंधन ने 2004, 2009 में लोकसभा और 2006 और 2021 में विधानसभा चुनाव जीता था। हमें 2024 की लोकसभा जीत के लिए UPA गठबंधन और अगुआई करने वाले नेतृत्व को मजबूत करना चाहिए। सभी विपक्षी दलों को साथ आना चाहिए।

फारूक अब्दुल्ला ने कहा- लोकतंत्र और संविधान को खतरे में डाला जा रहा है।

फारूक अब्दुल्ला ने कहा- लोकतंत्र और संविधान को खतरे में डाला जा रहा है।

फारूक बोले- जागो और एकजुट हो जाओ
फारूक अब्दुल्ला ने मंच से स्टालिन समेत विपक्ष के सभी नेताओं से कहा- जागो, एकजुट हो जाओ और एक ऐसे राष्ट्र का निर्माण करो, जहां हम सभी सम्मान और शांति से रह सकें। भारत के लोग ही देश को मजबूत बनाते हैं। आइए हम एक साथ मिलें और सद्भाव से काम करें।

अब्दुल्ला ने स्टालिन से कहा कि भारत मुश्किल में है। लोकतंत्र और संविधान को खतरे में डाला जा रहा है। मुझे उम्मीद है कि आप न केवल तमिलनाडु की सेवा करने के लिए बल्कि पूरे भारत की सेवा करने के लिए लंबे समय तक जिएंगे।

तेजस्वी यादव ने कहा-आज संवैधानिक संस्थाओं को हाईजैक कर लिया गया है।

तेजस्वी यादव ने कहा-आज संवैधानिक संस्थाओं को हाईजैक कर लिया गया है।

तेजस्वी बोले- हम उन्हें हरा सकते हैं
इस अवसर पर बिहार के डिप्टी CM तेजस्वी यादव ने कहा कि लालू जी ने हमेशा कहा है कि यह आपातकाल नहीं बल्कि अघोषित आपातकाल है, इसलिए हमें लड़ने की जरूरत है। हम उन्हें हरा सकते हैं और यह कोई बड़ा काम नहीं है।

हमारा एजेंडा बेरोजगारी, महंगाई, संविधान को बचाने का है। आज सभी संवैधानिक संस्थाओं को हाईजैक कर लिया गया है। हमने देखा है कि वर्तमान सरकार संविधान के नियमों का पालन नहीं कर रही है।

अपने जन्मदिन पर स्टालिन ने कांग्रेस के नेतृत्व में लोकसभा चुनाव लड़ने की ओर इशारा किया।

अपने जन्मदिन पर स्टालिन ने कांग्रेस के नेतृत्व में लोकसभा चुनाव लड़ने की ओर इशारा किया।

स्टालिन ने कहा- यह भारत में एक विशाल राजनीतिक मंच की शुरुआत
स्टालिन ने कहा- तीसरे मोर्चे का विचार बेमानी है। मैं BJP के विरोध में सभी राजनीतिक दलों से विनम्रता से अनुरोध करता हूं कि वे सरल चुनावी गणित को समझें और एकजुट हो जाएं। यह सिर्फ मेरे जन्मदिन समारोह का मंच नहीं है।

मैं तमिलनाडु के लोगों के आदेश पर मुख्यमंत्री के रूप में काम कर रहा हूं, मैं कार्यकर्ताओं के आदेश से DMK अध्यक्ष के रूप में काम कर रहा हूं। न तो मैं बहुत बड़ा नेता हूं न ही बड़ा लेखक हूं, लेकिन मैं मेहनत कर सकता हूं।

स्टालिन ने यह भी कहा कि आज से भारत में एक विशाल राजनीतिक मंच की शुरुआत हो रही है। मैं मल्लिकार्जुन खड़गे को एक साझा मंच बनाकर जन्मदिन का सबसे अच्छा तोहफा देने के लिए धन्यवाद देता हूं। 2024 का चुनाव इस बारे में नहीं है कि कौन जीतता है, यह इस बारे में है कि किसे हराना चाहिए।

अखिलेश बोले- मैं भी आने वाली पीढ़ी के साथ न्याय करना चाहता हूं
समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और UP के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि मैं भी सभी नेताओं के साथ मिलकर आने वाली पीढ़ी के साथ न्याय करना चाहता हूं।

स्टालिन के एक समर्थक ने जन्मदिन पर उन्हें ऊंट गिफ्ट किया।

स्टालिन के एक समर्थक ने जन्मदिन पर उन्हें ऊंट गिफ्ट किया।

जन्मदिन पर ऊंट गिफ्ट किया
जन्मदिन पर स्टालिन को देने के लिए लोग तरह-तरह के गिफ्ट लेकर आए थे। तिरुवन्नामलाई के रहने वाले जाकिर शाह नाम के एक DMK कार्यकर्ता ने 2 साल का ऊंट गिफ्ट MK स्टालिन को गिफ्ट किया। ऊंट DMK के झंडे में लिपटा हुआ था।

मीडिया से बात करते हुए जाकिर ने कहा कि मेरे लिए यह रिवाज रहा है, मैं हर साल अपने नेता को उनके जन्मदिन पर एक लिविंग एनिमल गिफ्ट देता हूं। इससे पहले एक घोड़ा, जल्लीकट्टू बैल, बकरी, कबूतर और वास्तु फिश गिफ्ट कर चुका हूं। इस बार मैं ऐसा गिफ्ट दे रहा हूं जो आज तक दुनिया में किसी ने नहीं दिया होगा।

लोकसभा चुनाव 2024 से जुड़ी भास्कर की ये खबरें भी पढ़ें…

1. थरूर बोले- 2024 चुनाव में बहुमत हासिल नहीं कर पाएगी, कांग्रेस चीफ होता तो छोटे दलों को आगे लाता

लोकसभा चुनाव 2024 में भाजपा को हराने के लिए विपक्षी दलों के एकजुट होने के कयास लगाए जा रहे हैं। इसी बीच कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने कहा कि अगर वह पार्टी नेतृत्व में शामिल होते तो छोटे दलों को आगे लाते, ताकि BJP को हराया जा सके। पूरी खबर पढ़ें …

2. लोकसभा 2024 चुनाव अकेले लड़ेगी TMC, विपक्षी एकता की मुहिम के बीच ममता ने खुद को किया अलग

एक तरफ लोकसभा चुनाव 2024 के लिए विपक्षी पार्टियां एकजुट होने की मुहिम चला रही है। वहीं, तृणमूल कांग्रेस (TMC) ने विपक्षी एकजुटता की इस मुहिम से खुद को अलग कर लिया है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने लोकसभा चुनाव अकेले लड़ने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि हम 2024 का चुनाव अकेले लड़ेंगे। पूरी खबर पढ़ें…

3. नीतीश ने विपक्षी एकता पर कांग्रेस को दी सलाह, खुर्शीद बोले- पहले आई लव यू कौन कहेगा

अधिवेशन में जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह, डिप्टी CM तेजस्वी, माले के महासचिव दीपंकर, सीएम नीतीश कुमार और सलमान खुर्शीद।

अधिवेशन में जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह, डिप्टी CM तेजस्वी, माले के महासचिव दीपंकर, सीएम नीतीश कुमार और सलमान खुर्शीद।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पटना में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (CPI-ML) के अधिवेशन में विपक्षी एकता पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि अगर कांग्रेस इस बात पर तैयार हो जाए तो 2024 में भाजपा 100 सीटों के अंदर सिमट कर रह जाएगी।नीतीश की सलाह पर कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने जवाब दिया। उन्होंने कहा- नीतीश कुमार जी जो आप सोचते हैं, वो कांग्रेस भी सोचती है। बस बात इतनी सी है कि पहले आई लव यू कौन कहेगा। पूरी खबर पढ़ें…

खबरें और भी हैं…

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.