दिल्ली में मेडिकल कॉलेजों को फिर से खोलने का आदेश, जल्द शुरू होगी पढ़ाई

83


कोरोना का संक्रमण कम होने के मद्देनजर दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग ने मेडिकल कालेजों को तत्काल प्रभाव से दोबारा खोलने का आदेश जारी किया है। इसलिए मौलाना आजाद मेडिकल कालेज (एमएएमसी), यूनिवर्सिटी कालेज ऑफ मेडिकल साइंस (यूसीएमएम) सहित दिल्ली सरकार के अस्पतालों से जुड़े सभी मेडिकल कालेज अब खुल जाएंगे और उनमें पठन पाठन का कार्य शुरू हो जाएगा। लेकिन मेडिकल के सभी छात्र एक साथ नहीं बुलाए जाएंगे। केंद्र व दिल्ली सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देश के अनुसार की चारणबद्ध तरीके से छात्रों को बुलाना होगा।

विभाग द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि शुरुआत में एमबीबीएस प्रथम वर्ष के छात्र बुलाएं जाएंगे। कालेज खुलने के डेढ़ से दो माह में पाठ्यक्रम और प्रैक्टिकल पूरा करना होगा। इसके बाद एमबीबीएस अंतिम वर्ष के छात्र क्लास में आना शुरू करेंगे। सफल प्रशिक्षण के बाद एमबीबीएस अंतिम वर्ष के छात्र वार्षिक परीक्षा में शामिल हो सकेंगे। परीक्षा में पास करने के बाद वे बतौर प्रशिक्षु सेवाएं दे सकेंगे।


मेडिकल प्रशिक्षण शुरू करने की हो रही थी मांग
इसके बाद एमबीबीएस द्वितीय वर्ष के छात्र व डेंटल के छात्र कालेज बुलाए जाएंगे। कॉलेज खोलने के लिए राष्ट्रीय आयुर्विज्ञान आयोग (एनएमसी) व भारतीय दंत परिषद भी पिछले माह भी आदेश जारी कर चुके हैं। एम्स सहित केंद्र सरकार के अस्पतालों से जुड़े मेडिकल कालेज पहले से ही कक्षाएं संचालित कर रहे हैं। मौलाना आजाद मेडिकल कालेज के मेडिकल छात्र व रेजिडेंट डाक्टर भी जल्द कालेज व मेडिकल प्रशिक्षण शुरू करने की मांग कर रहे थे। क्योंकि वे अपने प्रशिक्षण को लेकर चिंतित थे।


बता दें कि दिल्ली में कोरोना संक्रमण को देखते हुए मार्च 2020 को सरकार ने सभी स्कूलों व मेडिकल कॉलेजों को बंद करने का आदेश दिया था। तब से अभी तक राजधानी के स्कूल-मेडिकल कॉलेज बंद हैं। सरकार के इस आदेश के बाद अब दिल्ली सरकार के अस्पतालों से जुड़े मेडिकल कालेजों में पढ़ाई शुरू होगी।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.