दिल्ली में ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों पर प्रतिबंध बढ़ाया जाए, सीएम केजरीवाल ने की केंद्र से मांग

0 79


दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ब्रिटेन से आने वाली उड़ानें पर 31 जनवरी तक प्रतिबंध को बढ़ाने की मांग की है। ब्रिटेन में कोरोना संक्रमण के गंभीर मामलों को देखते हुए उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार ने केंद्र से आग्रह किया है कि ब्रिटेन (यूके) से आने वाली उड़ानों पर प्रतिबंध बढ़ा दिया जाए। ताकि दिल्ली में कोरोना के नए स्ट्रेन (स्वरुप) से लोगों को बचाया जा सके। उन्होंने कहा कि ब्रिटेन में कोरोना के नए स्ट्रेन के मामले बढ़ रहे हैं लेकिन केंद्र ने वहां की उड़ानों पर प्रतिबंध हटा दिया है और ब्रिटेन की उड़ानें फिर शुरू करने का फैसला किया है।

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि बड़ी मुश्किल से लोगों ने कोरोना की स्थिति को नियंत्रण में लाया है। ब्रिटेन में कोरोना संक्रमण की स्थिति गंभीर है। अब, प्रतिबंध क्यों हटाएं और हमारे लोगों को जोखिम में डालें?।

लोकनायक में भर्ती एक और मरीज में नया स्ट्रेन

दिल्ली में धीरे-धीरे कोरोना के नए स्वरूप (स्ट्रेन) से संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ रही है। बुधवार को भी लोकनायक अस्पताल में भर्ती एक मरीज में नए स्ट्रेन की पुष्टि हुई। इससे अब राजधानी में स्ट्रेन से संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 9 हो गई है। ये सभी मरीज लोकनायक अस्पताल के विशेष कोरोना वार्ड में भर्ती हैं। वहीं, दिल्ली सरकार के घर-घर जांच अभियान में श्रीलंका से लौटा एक और व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाया गया है। इससे लोकनायक अस्पताल के विशेष वार्ड में भर्ती कोरोना संक्रमितों की संख्या 52 हो गई है।


ब्रिटेन से आने वाले यात्रियों पर नजर

ब्रिटेन से आने वाले यात्रियों को लेकर आइजीआइ एयरपोर्ट सतर्क है। एक अधिकारी ने बताया कि मानक संचालन प्रक्रियाओं (एसओपी) के मुताबिक सभी यात्रियों को गत 14 दिनों का यात्र इतिहास बताने के अलावा उन्हें स्व-घोषणा पत्र भरना होगा। वहीं, उड़ान के प्रस्थान से 72 घंटे पहले कोरोना जांच की रिपोर्ट दिल्ली एयरपोर्ट के पोर्टल पर अपलोड करनी होगी। दिल्ली आने के बाद ब्रिटेन से आए यात्रियों का दोबारा से आरटी-पीसीआर परीक्षण कराना होगा। अधिकारियों के मुताबिक छूट मिलने के बाद पहली उड़ान बुधवार की शाम 252 यात्रियों को लेकर लंदन रवाना हो चुकी है।