दिल्ली के डिप्टी सीएम सिसोदिया का आरोप, भाजपा ने केजरीवाल का फर्जी वीडियो किया शेयर

0 60


दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने रविवार को प्रेस कांफ्रेंस कर कृषि कानूनों के मुद्दे पर भाजपा पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भाजपा ने शनिवार को सीएम केजरीवाल का वीडियो जारी किया है, जिसमें वो कृषि बिल के फायदे उठाते हुए बोल रहे हैं। इसे भाजपा के कई नेताओं ने ट्वीट किया। दरअसल ये केजरीवाल के एक इंटरव्यू का हिस्सा है जिसके हिस्से तोड़ तोड़ कर दिखाए जा रहे हैं, अलग अलग हिस्सों को जोड़कर एक कृषि बिल के समर्थन का बयान बनाया गया जबकि सच्चाई ये है जो उन्होंने बोला वो कुछ और है।

सिसोदिया ने कहा कि केजरीवाल ने जो असलियत में बोला वो कृषि बिल के खिलाफ है, भाजपा ने फर्जी वीडियो सीएम केजरीवाल की बनाई और उसे सोशल मीडिया पर डाला गया, ये वीडयो न सिर्फ भाजपा ने ट्वीट किया बल्कि राष्ट्रीय प्रवक्ता ने भी इस झूठी वीडयो को ट्वीट किया।

मनीष सिसोदिया ने कहा कि भाजपा अब बेहद घटियापन पर उतर आई है। भाजपा इतनी बेचारी हो गई है कि उन्हें सीएम केजरीवाल के झूठे वीडियो का सहारा लेना पड़ रहा है। भाजपा आज सत्ता में होने के बावजूद बेचारी महसूस कर रही है। भाजपा के लोग कई बार कृषि बिल के फायदे गिना चुके है, लेकिन किसान और देश की जनता मानने को तैयार नही है। उन्होंने कहा कि आज देश में केवल एक नेता है जिसपर जनता विश्वास करती है वो हैं अरविंद केजरीवाल। सिसोदिया ने कहा कि इस झूठे वीडियो को लेकर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।


शिक्षा मंत्री को पत्र लिखकर की दाखिला नीति-2021 जारी करने की मांग


वहीं, दिल्ली राज्य पब्लिक स्कूल्स मैनेजमेंट एसोसिएशन ने शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया को पत्र लिखा। पत्र में एसोसिएशन के अध्यक्ष आरसी जैन ने शिक्षा मंत्री से मांग की कि शिक्षा निदेशालय दाखिला नीति-2021 को जल्द जारी करे। उन्होंने लिखा कि इसी प्लान के तहत तीनों निगमों के पांचवीं तक संचालित और पांचवीं तक मान्यता प्राप्त स्कूलों के बच्चों को छठी कक्षा में दाखिले के लिए दिल्ली सरकार के स्कूलों को आवंटित किया जाता है, वहीं दिल्ली सरकार से आठवीं तक मान्यता प्राप्त स्कूलों के बच्चों को नौवीं कक्षा में और 10वीं के बच्चों को 11वीं में दाखिले के लिए स्कूल निर्धारित कर दिए जाते हैं।