दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण के स्तर में बढ़ोतरी, कुछ दिनों तक राहत मिलने की उम्मीद नहीं

0 67


दिल्ली-एनसीआर में पिछले तीन दिन से लगातार प्रदूषण के स्तर में बढ़ोतरी दर्ज की गई। इस वजह से बुधवार को गाजियाबाद व ग्रेटर नोएडा का एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआइ) गंभीर और दिल्ली व एनसीआर के अन्य शहरों में बहुत खराब श्रेणी में दर्ज किया गया। हालांकि, राजधानी में भी नौ जगहों पर हवा की गुणवत्ता गंभीर श्रेणी में रही। सफर इंडिया व केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के अनुसार, हवा की गति व तापमान कम होने के कारण प्रदूषण के स्तर में बढ़ोतरी हुई।

बृहस्पतिवार को प्रदूषण के स्तर में सुधार की संभावना है, लेकिन इंडेक्स बहुत खराब श्रेणी में रहेगा। अगले कुछ दिनों तक यही स्थिति बरकरार रहेगी।

उत्तर-पश्चिमी दिशा की ओर से चलने वाली हवा से बढ़ा प्रदूषण

दिल्ली में एयर इंडेक्स 376 दर्ज किया गया, जबकि एक दिन पहले यहां एयर इंडेक्स 367 था। सफर इंडिया के अनुसार, वातावरण में प्रदूषण के लिए जिम्मेदार पीएम (पार्टिकुलेट मैटर)-10 और पीएम 2.5 के स्तर में बढ़ोतरी हुई है। दिल्ली में पीएम- 10 का स्तर 334 व पीएम-2.5 का स्तर 196 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर रहा। यह एक दिन पहले क्रमश: 313 व 193 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर था। उत्तर-पश्चिमी दिशा की ओर से चलने वाली हवा की रफ्तार कम होने से प्रदूषण के स्तर में बढ़ोतरी हुई।


पंजाब व हरियाणा में पराली जलाने की 316 घटनाएं सामने आई हैं, जबकि एक दिन पहले 258 घटनाएं सामने आई थीं। दिल्ली के प्रदूषण में पराली के धुएं की हिस्सेदारी तीन फीसद रही।

दिल्ली-एनसीआर का एक्यूआइ

गाजियाबाद- 421

ग्रेटर नोएडा-406

नोएडा-394

दिल्ली- 373

फरीदाबाद- 326

गुरुग्राम-324

दिल्ली में ये इलाके रहे सर्वाधिक प्रदूषित


अशोक विहार- 425

विवेक विहार- 410

मुंडका-410

नेहरू नगर- 402

पटपड़गंज- 403

सोनिया विहार- 402

जहांगीरपुरी- 407

रोहिणी- 407

चांदनी चौक- 406

बता दें कि दिल्ली-एनसीआर में दिवाली के बाद से प्रदूषण के स्तर में बढ़ोतरी शुरू हो गई थी। लेकिन बीच में हल्की बारिश से थोड़ी राहत जरुर मिली थी। हालांकि अब एक बार फिर से प्रदूषण बढ़ रहा है।