डिजिटल मोड में जारी हो सकते हैं एडमिट कार्ड, परीक्षाएं फरवरी और मार्च में

0 68


सीबीएसई द्वारा अगले वर्ष आयोजित की जाने वाली सेकेंड्री और सीनियर सेकेंड्री कक्षाओं की बोर्ड परीक्षाओं के लिए एडमिट कार्ड डिजिटल मोड से जारी किये जा सकते हैं। सीबीएसई बोर्ड परीक्षाओं को लेकर कई मीडिया रिपोर्ट्स में आ रही खबरों और कयासों के बीच केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ द्वारा देश भर के स्टूडेंट्स के साथ लाइव सोशल इंटेरैक्शन कल, 10 दिसंबर 2020 को होने जा रहा है। सोशल इंटेरैक्शन में परीक्षाओं की तारीखों से लेकर, प्रैक्टिकल एग्जाम, सिलेबस आदि से सम्बन्धित डाउट्स के साथ-साथ सीबीएसई बोर्ड एडमिट कार्ड 2021 के डिजिटल रूप से जारी किये जाने के मीडिया खबरों के इस नये कयास पर स्पष्टीकरण मिलने की उम्मीद है। हालांकि, बोर्ड की तरफ से 10वीं एवं 12वीं के एडमिट कार्ड को लेकर कोई भी आधिकारिक जानकारी फिलहाल जारी नहीं की गयी है।

छात्र अपने फेसबुक या ट्वीटर पर लॉगिन करके हैशटैग #EducationMinisterGoesLive को फॉलो करते हुए सवाल पूछ सकते हैं।


दूसरी तरफ, मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो छात्रों को 2021 की 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं के लिए एडमिट कार्ड वर्तमान में फैली कोरोना महामारी को देखते हुए डिजिटल मोड में जारी किये जा सकते हैं। इस एडमिट कार्ड पर छात्रों के स्कूल प्रिसिंपल या समकक्ष अधिकारी के डिजिटल हस्ताक्षर हो सकते हैं। रिपोर्ट्स के अनुसार स्टूडेंट्स के एडमिट कार्ड को बोर्ड द्वारा स्कूलों को एक्सेस दिया जाएगा, जिसे छात्र अपने स्कूल की वेबसाइट पर विजिट करके डाउनलोड कर पाएंगे। स्टूडेंट्स को अपनी सीबीएसई बोर्ड एडमिट कार्ड 2021 डाउनलोड करने के लिए यूजर आईडी और पासवर्ड जेनेरेट करना होगा।


यह भी पढ़ें – CBSE Board Exam 2021: ऑनलाइन नहीं, लिखित ही होगी परीक्षाएं, प्रैक्टिकल के लिए हो सकते हैं ‘अल्टरनेटिव्स’, बोर्ड ने दी ये जानकारी

साथ ही, डिजिटल मोड से जारी किये गये और स्कूल प्रिंसिपल के डिजिटल सिग्नेचर वाले सीबीएसई बोर्ड एडमिट कार्ड 2021 पर स्टूडेंट्स को अपने पैरेंट्स या गार्जियन के हस्ताक्षर कराने होंगे। गार्जियन के हस्ताक्षर के बिना सीबीएसई एडमिट कार्ड को वैलिड नहीं माना जाएगा।

बता दें कि इससे पहले सीबीएसई बोर्ड के परीक्षा नियंत्रक संयम भारद्वाज द्वारा एक सामाचार पोर्टल को दिये गये इंटरव्यू में 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं की आयोजन हर वर्ष की तरह ही इस बार भी फरवरी और मार्च के माह के दौरान किया जाने की जानकारी दी गयी थी।