ट्रेन यात्रियों के लिए अहम खबर, एक गलती पड़ेगी भारी और लुट जाएगा आपका सामान 

0 69

रेल यात्रा करते समय सावधान रहें। किसी का दिया कुछ न खाएं-पीएं। अगर आप झांसे में आकर किसी का दिया कुछ भी खा-पी लेते हैं तो आप वारदात के शिकार हो सकते हैं। आरपीएफ की खुफिया शाखा के दिल्ली-पूर्व प्रभारी आरके कन्नौजिया ने शुक्रवार को जहरखुरान गिरोह के दो बदमाशों को दबोचने के बाद प्रेस वार्ता के दौरान यह बातें रेल यात्रियों की जागरूकता के लिए कहीं।

पूजा स्पेशल ट्रेन में नशीला बिस्कुट खिलाकर की थी लूटपाट

गत 31 अक्टूबर को दिल्ली से मुजफ्फरपुर जा रही पूजा स्पेशल ट्रेन में ओखला निवासी सईद अहमद व फैजाबाद निवासी निवजेश यादव को नशीला बिस्कुल खिलाकर लूटपाट की गई थी। आरोपितों ने दिल्ली से हापुड़ के बीच घटना को अंजाम दिया था। पीड़ितों से आरोपित दो मोबाइल व हजारों की नकदी ले गए थे।

गाजियाबाद रेलवे स्टेशन के पास से दबोचे आरोपित


मामले की तफ्तीश में जुटी आरपीएफ की खुफिया शाखा व जीआरपी गाजियाबाद की टीम को शुक्रवार को जहरखुरान गिरोह के बदमाशों के गाजियाबाद रेलवे स्टेशन पर आने की जानकारी मिली। इसके बाद संयुक्त टीम ने दो आरोपित नदीम उर्फ अख्तर व साबिर को दबोचा। दोनों मूलरूप से बिहार के मधुबनी के रहने वाले हैं। फिलहाल दोनों दिल्ली के पूर्वी दिल्ली इलाके में स्थित झुग्गी-बस्ती कैंप में रहते थे। अफसरों ने बताया कि आरोपित ज्यादातर बिहार जाने वाली ट्रेनों को निशाना बनाकर घटना को अंजाम देते थे। इनका एक साथी फरार है। उसकी तलाश में संभावित ठिकानों पर दबिश जारी है। शिकंजे में आए आरोपितों के कब्जे से लूटा गया मोबाइल, दो हजार रुपये नकदी व नशीली गोलियां बरामद की गई हैं।


ऐसे देते थे वारदात को अंजाम

आरोपित दिल्ली से ट्रेनों में सवारी बनकर बैठते थे। इसके बाद यात्रियों को बातों में फंसाकर बिस्कुल खिलाते थे। झांसे में लेने के लिए यह उसी पैकेट में से एक बिस्कुट खुद खाते थे। उसके बाद यात्रियों को बिस्कुट खाने का प्रस्ताव देते थे क्योंकि पहले खुद बिस्कुट खा चुके होते थे तो झांसे में आकर ट्रेन में सवार यात्री इनके प्रस्ताव पर बिस्कुट खा लेते थे। इसके बाद यात्रियों के बेहोश होने के बाद उनका सामान लेकर फरार हो जाते थे।