जालंधर में एचएमवी कालेज ने इनोवेशन विकास की प्रक्रिया पर करवाया आनलाइन सेशन

0 84


जालंधर में हंस राज महिला महाविद्यालय के इंस्टीट्यूट इनोवेशन काउंसिल की ओर से इनोवेशन विकास की प्रक्रिया विषय पर आनलाइन सेशन का आयोजन किया गया। रिसोर्सपर्सन के तौर पर लीना छाबड़ा उपस्थित थी। सेशन का आरंभ गायत्री मंत्र से हुआ। डा. अंजना भाटिया ने लीना छाबड़ा का स्वागत किया। रिसोर्सपर्सन लीना छाबड़ा ने इनोवेशन का परिचय देते हुए कहा कि इनोवेशन बाजार का आधार है तथा इनोवेशन प्रक्रिया में नए या वर्तमान ज्ञान को मार्केट के अनुसार समाधानों में बदला जाता है। इनोवेशन का आरंभ एक आइडिया से होता है। प्रक्रिया तभी शुरू होगी, जब उस आइडिया की मार्केट में मांग होगी तथा वह आइडिया किसी समस्या के समाधान के रूप में सामने आएगा।

आइडिया जेनरेशन के लिए पैशन, अलग सोच तथा क्रिएटिव ऊर्जा की जरूरत होती है। इसके अलावा अवसर का मूल्यांकन करने के लिए विश्लेषण करना जरूरी है। यदि उचित मार्केटिंग न की जाए तो सारी इनोवेशन व्यर्थ हो जाती है। इसे बढ़ावा देने की जरूरत है। छात्राओं ने सेशन के दौरान नए करियर की शुरूआत से लेकर इनोवेशन आइडियाज को लेकर की जाने वाली प्लानिंग और क्रिएटिविटी को लेकर अपने प्रश्न पूछे। रिशव भारद्वाज ने धन्यवाद ज्ञापन दिया तथा सेशन का संचालन नवनीता ने किया।


प्रिंसिपल डा. अजय सरीन ने इस सेशन की अध्यक्षता की। उन्होंने कहा कि छात्राओं को पाठ्यक्रम के साथ-साथ प्रेक्टिकली ज्ञान देने की भी बेहद जरूरत है। इसी उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए ही यह सेशन आयोजित किया गया, जिससे छात्राओं को करियर से जुड़े सवालों के जवाब मिल सकें।