जानें- कैसे काम करेगा Co-WIN 2.0 APP, कैसे कर सकते हैं रजिस्ट्रेशन, एक मार्च से शुरू हो रहा टीकाकरण का अगला चरण

0 55


दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान के दूसरे चरण की शुरुआत सोमवार से होगी। इस दौरान बुजुर्ग लोगों और गंभीर बीमारी से पीड़ित 45 साल से ज्यादा उम्र के लोगों का कोरोना टीकाकरण शुरू हो जाएगा। टीकाकरण 10 हजार सरकारी और 20 हजार निजी केंद्रों पर होगा। सरकारी केंद्रों पर टीकाकरण मुफ्त होगा। टीकाकरण के लिए पात्र लोगों को कोविन 2.0 प्लेटफॉर्म पर पंजीकरण करना होगा। इसके साथ ऐसा भी प्रविधान होगा कि लाभार्थी सत्र स्थलों पर अपना पंजीकरण करा सकेंगे। आइए जानते हैं दूसरे चरण के टीकाकरण और कोविन 2.0 एप पर रजिस्ट्रेशन से जुड़ी तमाम जानकारी।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने शुक्रवार को इसकी जानकारी दी थी कि कोविन डिजिटल प्लेटफॉर्म अपग्रेड होकर 1.0 से 2.0 होगा। इस लिए आज और कल (27 और 28 फरवरी) कोरोना टीकाकरण नहीं होगा। कोविन एप एक डिजिटल प्लेटफॉर्म है। इसे कोरोना वैक्सीन से जुड़े रिकॉर्ड रखने लिए बनाया गया है।
कोरोना टीकाकरण के योग्य लाभार्थी एक मार्च से खुद ही कोविन प्लेटफॉर्म पर अपना पंजीकरण करा सकेंगे। ऐसा भी प्रविधान होगा कि वे पास के किसी टीकाकरण केंद्र पर जाकर अपना पंजीकरण करा सकते हैं। टीकाकरण केंद्र पर पंजीकरण कराने वालों की मदद के लिए स्वयंसेवी (Volunteers) मौजूद रहेंगे।
पात्र लाभार्थी आधार कार्ड और मतदाता पहचान पत्र के अलावा कोई अन्य फोटो पहचान वाले दस्तावेज दिखाकर टीकाकरण करा सकते हैं। इसमें जन्म की तारीख दर्ज होनी चाहिए। किसी गंभीर बीमारी से ग्रसित 45 से 60 साल के बीच के उम्र के लाभार्थियों को पंजीकृत डाक्टर द्वारा दिया गया बीमारी का सर्टिफिकेट देना होगा।
कोविन 2.0 एप जीपीएस अनेबलड होगा। लाभार्थी टीकाकरण की तारीख और दिन चुन सकेंगे। एक मोबाइल नंबर से चार अपॉइंटमेंट लिए जा सकते हैं। को-विन एप के अलावा आरोग्य सेतु एप के मध्यम से भी लाभार्थियों का पंजीकरण किया जा सकेगा।
कोविन 2.0 एप पर कैसे करें रजिस्ट्रेशन


कोविन एप को मोबाईल पर डाउनलोड करें या cowin.gov.in की वेबसाइट पर जाएं।
मोबाइल नंबर या आधार नंबर डालें।
इसके बाद आपको एक ओटीपी मिलेगा। इसको भरने के बाद आपका रजिस्ट्रेशन हो जाएगा।
आप इसी एकाउंट से अपने परिवार के सदस्यों का भी राजिस्ट्रेशन करा सकते हैं।
तय तिथि और समय पर टीकाकरण केंद्र पर जाएं और टीका लगवाएं।
रेफरेंस आईडी के माध्यम से अपना टीकाकरण प्रमाणपत्र प्राप्त करें।