जानिए किस वित्तमंत्री के नाम है सबसे अधिक बार बजट पेश करने का रिकॉर्ड

0 80


केंद्र सरकार कोरोना वायरस महामारी के बीच एक फरवरी को आम बजट पेश करने जा रही है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण यह बजट पेश करेंगी। देशभर के आम लोगों, निवेशकों और कारोबारियों की निगाहें इस बजट पर लगी हुई हैं। बजट के साथ कई ऐतिहासिक तथ्य जुड़े होते हैं। आज हम बात करेंगे ऐसे वित्त मंत्री की, जिनके नाम सबसे ज्यादा बजट पेश करने का रिकॉर्ड है। ये हैं मोरारजी देसाई। बजट पेश करने के अलावा भी इनके नाम कई दिलचस्प रिकॉर्ड हैं।

मोरारजी देसाई अकेले ऐसे वित्त मंत्री हैं, जिन्होंने सबसे ज्यादा बार बजट पेश किया। दो बार ऐसे मौके आए, जब उन्होंने अपने जन्मदिन के दिन बजट पेश किया। दरअसल, लीप इयर को छोड़ दें, तो फरवरी 28 दिन का होता है और मोरारजी का जन्म 29 फरवरी को हुआ था। ऐसे में उन्होंने दो बार बजट 29 फरवरी को पेश किया। मोरारजी देसाई को बजट पेश करने का मौका एक नहीं, दो नहीं, बल्कि पूरे 10 बार मिला।

मोरारजी देसाई के बाद सबसे अधिक बजट पेश करने के मामले में दूसरा स्थान पी चिदंबरम का आता है। उन्होंने 9 बार संसद में बजट पेश किया। इसके अलावा पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी 8 बार संसद में बजट पेश कर चुके हैं। वहीं, यशवंत सिन्हा, यशवंतराव चव्हान और सीडी देशमुख ने 7 बार बजट पेश किया था। इसके अलावा डॉ. मनमोहन सिंह ने 6 बार बजट पेश किया था। पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भी 5 बार आम बजट पेश किया था।


आजाद भारत के पहले बजट की बात करें, तो यह आरके शनमुखम चेट्टी द्वारा पेश किया गया था। यह एक अंतरिम बजट था। इसके बाद मोरारजी देसाई, जवाहर लाल नेहरू और इंदिरा गांधी सरकार में वित्त मंत्री के पद पर रहे। इंदिरा गांधी ने प्रधानमंत्री रहते हुए 1969 में वित्त मंत्री का कार्यभार संभाला था।