जब शो में ‘जेठालाल’ के एक डायलॉग पर खड़ा हो गया था विवाद, मेकर्स बोले- अब दोबारा न दोहराएं

90

टीवी पर आने वाला कॉमेडी शो ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ पिछले 12 सालों से दर्शकों का मनोरंज कर रहा है। इस शो के हर कलकार अपनी कॉमेडी से दर्शकों के बीच काफी पसंद किए जाते हैं लेकिन सबसे ज्यादा जेठालाल और उनकी फैमिली चर्चा में रहती है। फिर चाहे जेठालाल के पिता ‘बाबूजी’ हो या फिर उनकी पत्नी दयाबेन संग उनकी लड़ाई। वहीं ​बबिता जी के साथ उनके मस्ती मजाक को भी काफी पंसद किया जाता है। वहीं हाल ही में दिलीप जोशी ने एक इंटरव्यू में बताया कि एक बार अपने एक डायलॉग की वजह से वह बुरी तरह से फंस गए थे।

दरअसल, जेठालाल उर्फ दिलीप जोशी ने हाल ही में स्टैंड अप कॉमेडियन सौरभ पंत के साथ पॉडकास्ट में भाग लिया था। इस दौरान उन्होंने अपने किरदार यानी जेठालाल से जुड़ी कई दिलचस्प बातें शेयर की हैं। दिलीप जोशी ने बताया कि जेठालाल के लिए एक डायलॉग उन्होंने खुद इंप्रोवाइज किया था। जिसमें वो दयाबेन को पागल औरत कहकर बुलाते थे। फिर क्या था ये बाद में ये डायलॉग मीम मैटेरियल बन गया। इसी डायलॉग की वजह से जबरदस्त विवाद भी खड़ा हो गया था।


उन्होंने आगे कहा, ‘ये जो- पागल औरत वाला था वो मैंने इंप्रोवाइज किया था। सेट पर कोई ऐसी सिचुएशन आई थी तो सीन करते-करते मेरे मुंह से निकल गया- ऐ पागल औरत, जिसका मतलब है बस इतना था- क्या कुछ भी बोल रही है रही है। मगर इस बात को लेकर बाद में कोई विमेन लिबरेशन मूवमेंट हो गया और मुझसे कहा गया कि इसे दोबारा कभी ना दोहराएं। हलांकि मैंने ये शब्द बहुत ही हल्के अंदाज में कहा था लेकिन बाद में इसका कुछ लोगों ने गलत मतलब निकाल लिया। उस दिन के बाद से मैंने इस शब्द को कभी इस्तेमाल नहीं किया।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.