चेन्नई, मुंबई, जयपुर और इंदौर में स्थित कई इलाकों में IT विभाग की छापेमारी

0 58


आइटी विभाग ने देश के कई राज्यों में छापेमारी की। इसमें चेन्नई, मुंबई, कोयम्बटूर, मदुरै, त्रिची, त्रिसूर, नेल्लोर, जयपुर और इंदौर शामिल है। इसके साथ ही चेन्नई के दो ग्रुप के पास भी विभाग ने छापेमारी की। जिनमें से एक तमिलनाडु का एक प्रमुख सराफा व्यापारी है और दूसरा सबसे बड़े आभूषण खुदरा विक्रेताओं में से एक है। यह छापेमारी 4 मार्च, 2021 को की गई थी।


अनुराग कश्यप और तापसी पन्नु के घर पर हुई थी छापेमारी

बता दें कि पिछले दिनों मुंबई में दो दिन से जारी आयकर विभाग की छापेमारी में 675 करोड़ रुपये की अनियमितता के सुबूत मिले हैं। इनमें से 670 करोड़ की अनियमितता के सुबूत फिल्म निर्माता अनुराग कश्यप के यहां और पांच करोड़ रुपये की अनियमितता के सुबूत फिल्म अभिनेत्री तापसी पन्नु के यहां पाए गए हैं। इसके अलावा आयकर विभाग को उनके सात बैंक लॉकर्स की भी जानकारी मिली है, जिन्हें फिलहाल फ्रीज कर दिया गया है।


आयकर विभाग ने आधिकारिक बयान जारी कर कहा कि दो दिनों में मुंबई, पुणे, दिल्ली और हैदराबाद में दो प्रोडक्शन कंपनियों और एक फिल्म अभिनेत्री से संबंधित कुल 28 स्थानों की तलाशी ली गई। प्रोडक्शन कंपनियां मुख्य तौर पर फिल्म, वेब सीरीज, निर्देशन और बड़े सिलेब्रेटीज के लिए टैलेंट मैनेजमेंट का काम करती है।

आयकर विभाग के अनुसार फिल्म प्रोडक्शन कंपनी में छापे के दौरान फिल्म से घोषित आय और बॉक्स ऑफिस कलेक्शन में भारी अंतर के सुबूत मिले हैं। प्रोडक्शन कंपनी के अधिकारी पूछताछ में 300 करोड़ रुपये की आय के बारे में जानकारी देने में विफल रहे। इसी तरह प्रोडक्शन हाउस के शेयरहोल्डर्स और निदेशकों को बीच शेयर बंटवारे में शेयरों की कीमत काफी दिखाये जाने के भी सुबूत मिले हैं।


शुरुआती जांच में प्रोडक्शन कंपनी पर 350 करोड़ रुपये की आयकर की जिम्मेदारी बन सकती है। बॉक्स ऑफिस कलेक्शन और शेयर के बंटवारे में घपले के साथ ही कंपनी के निदेशकों की ओर से फर्जी बिल के सहारे पैसे निकालने का मामला भी सामने आया है।