गुरुग्राम में पुलिस हिरासत में लिए गए योगेंद्र यादव, दिल्ली में जंतर मंतर छावनी में तब्दील

0 76


पंजाब और हरियाणा के किसान अंबाला में हैं और धीरे-धीरे दिल्ली की ओर आगे बढ़ रहे हैं। इस दौरान हरियाणा पुलिस और किसानों के बीच भिड़ंत की भी खबर है। इस बीच हरियाणा के गुरुग्राम में योगेंद्र यादव को गुरुग्राम पुलिस ने हिरासत में लिया है।

वहीं, दिल्ली में प्रदर्शन के चलते जंतर-मंतर पर कड़ी सुरक्षा की गई है। पूरे इलाके को छावनी में तब्दील कर दिया गया है। किसानों की राजधानी में कूच करने की संभावना के चलते दिल्ली में जगह-जगह कड़ी निगरानी पुलिस व अन्य सुरक्षा एजेंसियों के जरिए की जा रही है। ऐसे में जंतर मंतर पर दिल्ली पुलिस वह आरपीएफ के जवानों को तैनात किया गया है, जो यहां आने वाले किसानों को रोकने के लिए पूरी मुस्तैद के साथ तैनात हैं। साथ ही पुलिस वाटर कैनन के साथ जंतर मंतर पहुंची है, जिसका जरूरत पढ़ने पर इस्तेमाल किया जा सकेगा।


वहीं नई दिल्ली के डीसीपी ईश सिंगल ने कहा कि किसानों को किसी भी तरीके के धरने प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी गई है, जिसके चलते उन पर निगरानी करने के लिए पुलिस पर सुरक्षा एजेंसियों के जवानों को तैनात किया गया है। उन्होंने कहा कि किसी भी हालत ने किसानों को दिल्ली नहीं आने दिया जाएगा। इसके लिए पुलिस की पूरी तैयारी है। वह खुद जगह जगह जाकर निरीक्षण कर रहे हैं।

वहीं, पंजाब और हरियाणा के किसानों के दिल्ली कूच के मद्देनजर बॉर्डर सील हैं। इसके चलते जीटी रोड पर सुबह से ही भीषण जाम लगा हुआ है। सोनीपत में वाहनों के रूट भी बदले गए हैं।


बता दें कि 3 कृषि कानूनों के खिलाफ बृहस्पतिवार को दिल्ली में प्रदर्शन की तैयारी की है। वहीं, किसान आंदोलन को देखते हुए हरियाणा से सटे क्षेत्र के सभी इलाकों पर पुलिस की विशेष नजर बनी हुई है। पश्चिमी रेंज के अंतर्गत आने वाले तीन पुलिस जिलों द्वारका, पश्चिमी व बाहरी जिला पुलिस की टीमें क्षेत्र के सभी बार्डर पर तैनात हैं। संयुक्त पुलिस आयुक्त शालिनी सिंह संबंधित जिले के उपायुक्त के साथ स्थिति पर नजर रखने के लिए क्षेत्र में मौजूद हैं।


पुलिस की सख्त जांच के चलते सिरहौल बार्डर स्थित दिल्ली-गुरुग्राम एक्सप्रेस वे पर लंबा जाम लगा हुआ है।
पुलिस अधिकारियों का कहना है कि सबसे अधिक पुलिस बल बाहरी जिला में तैनात किया गया है। क्षेत्र के टीकरी बार्डर व रोहतक रोड के किनारे जगह जगह पुलिस की तैनाती है। जगह जगह बेरीकेड लगाए गए हैं। इसके अलावा ढांसा, झाड़ौदा, घुम्मनेहड़ा, बाकरगढ़ व गुरुग्राम से सटे बार्डर पर पुलिस की टीमें गश्त करने के साथ साथ हरियाणा की ओर से आने वाले सभी वाहनों की तलाशी कर रही है।
पुलिस का ध्यान पश्चिमी जिला के सिख बहुल इलाकों पर भी है। पुलिस यह मानकर चल रही है कि यदि किसान दिल्ली में प्रवेश करते हैं तो कई किसान तिलक नगर, राजौरी गार्डन व क्षेत्र के गुरुद्वारों में विश्राम करने पहुंच सकते हैं। इस संभावना को देखते हुए तिलक नगर, राजौरी गार्डन इलाके में पुलिस की टीमें गश्त कर रही हैं। तीनों पुलिस जिले के उपायुक्त स्तर के अधिकारी अपने अपने क्षेत्र में पुलिस बल के साथ स्थिति पर पूरी नजर रखे हुए हैं।


रतीय किसान यूनियन (अ) के प्रदेश अध्यक्ष सचिन शर्मा ने बताया कि वह लोग 45 मिनट में यूपी गेट पर पहुंचेंगे। जहां बृहस्पतिवार दोपहर तक एनसीआर में दिल्ली मेट्रो नहीं चलेगी, वहीं हरियाणा और उत्तर प्रदेश से सटे सभी बॉर्डर कड़ी सुरक्षा की गई है।
वहीं, यह भी खबर आई है कि दिल्ली पुलिस ने राज्य में पंजाब और हरियाणा के प्रदर्शनकारी किसानों को प्रवेश की इजाजत नहीं दी है।
किसानों को दिल्ली में प्रवेश करने से रोकने के लिए भी पुलिस की पूरी तैयारी है। गड़बड़ी की आशंका के मद्देनजर कुछ इलाकों में ड्रोन से नजर रखी जा रही है।
दिल्ली से सटे सोनीपत जिले में दिल्ली (सिंघु) बॉर्डर पर अर्धसैनिक बलों की भी तैनाती की गई है। यहां पर दिल्ली पुलिस के साथ BSF और CISF की टुकड़ियों को भी तैनात किया गया है।
फऱीदाबाद में कड़ी सुरक्षा


फ़रीदाबाद में किसानों के दिल्ली कूच के आह्वान के मद्देनज़र बदरपुर बॉर्डर पर पुलिस बल अलर्ट है। जांच के बाद ही वाहनों को दिल्ली की तरफ़ भेजा जा रहा है। जिन वाहनों में चार या इससे अधिक लोग बैठे हैं उन्हें रोककर पूछताछ के बाद ही पुलिस दिल्ली की तरफ़ जाने दे रही है। जांच के कारण हाईवे पर वाहनों की रफ़्तार धीमी पड़ी है। बताया जा रहा है कि जाम नहीं लगा है, मगर जाम की स्थिति बन गई है।


दोपहर 2 बजे तक नोएडा गुरुग्राम नहीं जाएगी मेट्रो

देश की राजधानी दिल्ली में पंजाब और हरियाणा के किसानों के प्रदर्शन के मद्देनजर दिल्ली-हरियाणा और यूपी की सीमा पर बुधवार से ही सुरक्षा बढ़ा दी गई है। दिल्ली पुलिस ने राजधानी में प्रदर्शन करने के किसान संगठनों की सभी मांगें नामंजूर कर दी हैं। दिल्ली पुलिस के मुताबिक, कोरोना वायरस संक्रमण के दौर में अगर किसान दिल्ली में दाखिल हुए तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि किसानों ने जंतर मंतर और रामलीला मैदान में प्रदर्शन की इजाजत मांगी थी, लेकिन दिल्ली पुलिस ने इजाजत देने से इनकार किया है।

2 बजे तक नोएडा गुरुग्राम गाजियाबाद फरीदाबाद नहीं जाएगी मेट्रो

पंजाब और हरियाणा के किसानों के दिल्ली में प्रदर्शन को देखते हुए दिल्ली मेट्रो रेल निगम ने ट्रेनों के समय कुछ बदलाव किया है। बृहस्पतिवार को दोपहर 2 बजे तक दिल्ली से नोएडा, फरीदाबाद, गाजियाबाद और गुरुग्राम तक मेट्रो सेवाओं पर ब्रेक रहेगी। वहीं, दिल्ली से सटे फरीदाबाद में धारा-144 लागू है और किसी तरह के प्रदर्शन पर रोक है।


दिल्ली मेट्रो ने सूचना जारी की है कि दिल्ली से पड़ोस के शहरों में मेट्रो सेवा दोपहर 2 बजे तक बंद रहेगी। इसके तहत ब्लू लाइन पर आज सुबह से दोपहर दो बजे तक आनंद विहार से वैशाली और न्यू अशोक नगर से नोएडा सिटी सेंटर तक मेट्रो की सेवाएं बंद रहेगी।