क्रिकेट के क्षेत्र में योगदान के लिए रॉबिन उथप्पा हुए सम्मानित, IIM Kozhikode ने दिया सम्मान

0 13


क्रिकेटर रॉबिन उथप्पा को गुरुवार को क्रिकेट के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए आइआइएम कोझिकोड के नेशनल एक्सीलेंस अवार्ड से सम्मानित किया गया। यह इस अवार्ड का तीसरा एडिशन है। इससे खेल की दुनिया में योगदान के लिए प्रख्यात हस्तियों को प्रतिवर्ष सम्मानित किया जाता है। इसके बाद कालीकट हाफ मैराथन का आयोजन होता है। आइआइएम कोझिकोड के अनुसार पहली बार यह आयोजन 9-11 अप्रैल तक पूरी तरह से वर्चुअली होने जा रहा है। पुरस्कार प्रदान करते हुए संस्थान के निदेशक प्रो. देबाशीस चटर्जी ने उथप्पा के क्रिकेट के खेल में योगदान को याद किया और बताया कि उन्होंने संयम और दृढ़ संकल्प से कैसे अपनी टीम को आगे बढ़ाया।

एक प्रेस रिलीज के अनुसार आइआइएम कोझिकोड के निदेशक ने 2007 टी-20 विश्व कप में लीग स्टेज में खेले गए भारत और पाकिस्तान के बीच मैच को याद करते हुए रॉबिन उथप्पा को सराहा। यह मैच टाई हो गया था। इसके बाद बॉल आउट से इसका परिणाम निकला, जिसे भारत ने जीत लिया। उथप्पा उन तीन खिलाड़ियों में शामिल हैं, जिन्होंने बॉल आउट के दौरान स्टंप को हिट किया था।इसके बाद उन्होंने अपनी टोपी निकालकर दर्शकों का अभिवादन किया था। आइआइएम कोझिकोड के निदेशक ने इसे याद करते हुए क्रिकेट का सबसे यादगार घटना बताया।


दीपा मलिक और बबीता कुमारी फोगट हो चुकी हैं सम्मानित

इससे पहले पैरालम्पियन और अर्जुन अवार्डी दीपा मलिक और प्रसिद्ध पहलवान बबीता कुमारी फोगट को इस पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है। इस दौरान उथप्पा ने अपने पदार्पण के बारे में आभार व्यक्त किया और उन दिनों को याद किया जब उन्होंने सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली, राहुल द्रविड़ और वीरेंद्र सहवाग जैसे क्रिकेटरों के साथ टीम का प्रतिनिधित्व किया। कालीकट हाफ मैराथन पिछले 11 वर्षों से हर साल आयोजित होने वाला मैराथन है। यह छात्रों द्वारा आयोजित होने वाला सबसे बड़ा मैराथन है। इसका उद्देश्य विभिन्न सामाजिक मुद्दों के प्रति योगदान करना है।