कोरोना के सक्रिय मामलों ने बढ़ाई चिंता, स्कूलों में प्रवेश की तैयारियों पर लगा विराम

0 46


जिस तरह साल 2020 में कोरोना महामारी के आते ही अचानक सभी स्कूलों को बंद कर दिया गया था, ठीक वैसा ही आदेश जारी होने के चलते स्कूल प्रबंधक व प्रधानाचार्य परेशान हो गए हैं। उनका कहना है, नए प्रवेश पर कोरोना का ग्रहण एक बार फिर से लग गया। जिले के 40-45 फीसद निजी स्कूल ऐसे हैं, जहां एडमिशन फॉर्म रखे हुए हैं, वहीं तमाम स्कूलों में नए प्रवेश को लेकर तैयारियां चल रही थीं। दरअसल एक मार्च से ही कक्षा एक से लेकर पांचवीं तक की स्कूलों में पढ़ाई शुरू हुई थी। इसके बाद स्कूलों मे नए प्रवेश को लेकर खाका खींचा गया था और छात्र-छात्राओं के प्रवेश शुरू कराए गए थे। हालांकि अब 31 मार्च तक स्कूल बंद होने के चलते नए प्रवेश भी बंद हो गए।

फिर वही सवाल कब खुलेंगे स्कूल: स्कूल संचालकों के बीच यह चर्चा जोरों पर है, कि आखिर स्कूल कब से खुलेंगे? कुछ संचालक यह भी कह रहे हैं, कि स्कूलों को बंद रखने के साथ ही ऑनलाइन पढ़ाई शुरू हो सकती है तो वहीं कई यह भी बोल रहे हैं कि अब स्कूल जुलाई से खुल सकते हैं।