कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच सरकार सख्त, सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को सावधानी बरतने की सलाह

0 80


देश में एक बार फिर से कोरोना के मामलों में इजाफा हो रहा है, जिसको ध्यान में रखते हुए सरकार सतर्क हो गई है। लगातार एहतियात बरतने के साथ-साथ कोरोना गाइडलाइंस पर भी जोर दिया जा रहा है। इस संदर्भ में गृह सचिव अजय भल्ला (Home Secretary Ajay Bhalla) ने राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को कोरोना दिशानिर्देशों को 31 मार्च तक बढ़ाने हेतु पत्र लिखा है। इस पत्र में सभी राज्यों से कहा कि महामारी को पूरी तरह से दूर करने के लिए सावधानी और कड़ी निगरानी बनाए रखने की जरूरत है।


कोरोना महामारी के लिए जारी दिशानिर्देशों के अनुपालन को सुनिश्चित करने के लिए अधिकारियों से आग्रह करते हुए, भल्ला ने कहा कि संबंधित प्रशासनिक मंत्रालय और विभाग द्वारा जारी किए गए मानक संचालन प्रक्रियाओं (SOPs) का पालन करते हुए सभी गतिविधियों की अनुमति दी गई है। उन्होंने आगे दोहराया कि पड़ोसी देशों के बॉर्डर पर व्यापार के लिए व्यक्तियों और वस्तुओं पर कोई प्रतिबंध नहीं होगा।

अधिकारी ने कहा, ‘जैसा कि आप जानते हैं, देश में सक्रिय और नए मामलों की संख्या में पिछले कुछ महीनों में काफी गिरावट आई है। हालांकि, महामारी को पूरी तरह से दूर करने के लिए सावधानी और सख्त निगरानी बनाए रखने की आवश्यकता है।’


बता दें कि पिछले कई दिनों से देश में स्थित महाराष्ट्र में मामले लगातार बढ़ रहे हैं। इसको लेकर राज्य सरकार सतर्क भी है। वहां पहुंचने वाले लोगों के लिए कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट दिखाने के निर्देश भी दिए गए हैं। देश में यही राज्य सबसे ज्यादा संक्रमित है।

वहीं पूरी दुनिया में भारत दूसरे नंबर पर संक्रमित देश बना हुआ है जबकि पहले नबंर पर संक्रमित देश अमेरिका है। देश-दुनिया इस भयानक वायरस से लड़ रही है। इससे बचने के लिए टीकाकरण अभियान भी चल रहा है। साथ ही लोगों को वैक्सीन लगाने के लिए प्रति जागरुक भी किया जा रहा है।