कोरोना काल में बढ़े साइबर क्राइम के मामले, नामी कंपनी में नौकरी व सस्ता सामान दिलवाने के नाम पर हो रही ठगी

0 98


कोविड-19 के दौरान साइबर क्राइम व आनलाइन ठगी के मामले लगातार बढ़ रहे है। लेकिन इन मामलों में एक बात देखने को मिली है कि लोगों की लापरवाही ही उन पर भारी पड़ रही है। मोहाली साइबर सेल के पास जो आनलाइन ठगी की शिकायतें पहुंची है। उनमें ये देखा गया है कि ठगी का शिकार लोगों ने खुद ही अपने मोबाइल पर आया ओटीपी नंबर ठगों को दिया। लापरवाही के कारण ठग उनका अकाउंट खाली कर गए हैं। हालांकि पुलिस की ओर से लोगों को जागरूक करने के लिए अब कैंप लगाए जा रहे है। वहीं मोबाइल पर मैसेज, अवेयरनेस विज्ञापन देकर लोगों को जागरूक किया जा रहा है।

डीएसपी साइबर सेल रुपिंदरदीप कौर सोही ने बताया कि मार्च में लाकडाउन के बाद से अब तक उनके पास साइबर क्राइम की 100 से ज्यादा शिकायतें पहुंची है। जिन की जांच पर काम किया जा रहा है। वहीं, मल्टीनेशनल कंपनियों में नौकरी दिलवाने के नाम पर लोगों से 1000 से 2000 रुपये तक की ठगी हो रही है। फेज-2 निवासी गौरव सेठ ने बताया कि वे एक निजी यूनिवर्सिटी में काम करते है। लाकडाउन के दौरान यूनिवर्सिटी बंद थी। इसलिए वे कहीं और ज्वाइंन करना चाहते थे। एक मोबाइल से उन्हें काल आया कि वे नामी कंपनी में नौकरी दिलवा देगें, इसके लिए दो हजार जमा करवाने होंगे।


गौरव ने बताया कि दो हजार जमा करवा दिए लेकिन बाद में फोन करने वाले ने फोन उठना ही बंद कर दिया। वहीं, साइबर सैल के पास ओएलएक्स पर सामान खरीदने के नाम पर ठगी की शिकायतें भी आई। जिन पर क्यूआरकोड स्कैन कर खाते से पैसे निकाल लिए गए। हालांकि पुलिस की ओर से समय-समय पर लोगों को जागरूक किया जा रहा है।