केएमपी और केजीपी पर किसानों ने लगाया जाम, दरी बिछाकर सड़क पर बैठे प्रदर्शनकारी

0 37


केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों ने प्रदर्शन के 100 दिन पूरे होने पर शनिवार को कुंडली-मानेसर-पलवल (केएमपी) एक्सप्रेसवे को जाम किया। जागरण संवाददाता से मिली जानकारी के मुताबिक, सोनीपत में हजारों आंदोलनकारियों ने केएमपी और केजीपी पर जाम लगाया। इस दौरान दोनों हाईवे के जीरो प्वाइंट पर चढ़ने और उतरने वाले वाहनों को रोक दिया है। इससे दोनों हाईवे पर वाहनों की कतारें लग गई हैं। भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है। बताया जा रहा है कि 11 बजे की बजाय आंदोलनकारी आधा घंटा पहले ही पहुंचे और जाम लगा दिया है।

उधर, तीन कृषि कानूनों के विरोध में 28 नवंबर से यूपी गेट पर धरने पर बैठे प्रदर्शनकारी भी ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे पर केएमपी (कुंडली-मानेसर-पलवल) टोल को फ्री करने व एक्सप्रेस-वे को जाम करने के लिए शनिवार को पहुंचे। शुक्रवार को यूपी गेट धरनास्थल के मंच से प्रदर्शनकारियों के नेताओं ने लोगों से केएमपी पहुंचने की अपील की। इसके साथ ही कल यानि रविवार को यूपी गेट पर महापंचायत का आयोजन होगा। इस महापंचायत में पश्चिमी उत्तर प्रदेश के प्रदर्शनकारियों के साथ अन्य प्रदेशों के प्रदर्शनकारी भी शामिल होंगे। इस महापंचायत में भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत व राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत भी शामिल होंगे। इस महापंचायत में अगली रणनीति पर चर्चा की जाएगी। प्रदर्शनकारियों के नेता इस महापंचायत को सफल बनाने के लिए तैयारी में जुटे हुए हैं।


वहीं प्रवक्ता संयुक्त किसान मोर्चा गाजीपुर जगतार सिंह बाजवा का कहना है कि कल डासना, दुहाई, बागपत, दादरी, ग्रेटर नोएडा पर जाम किया जाएगा। काली पट्टी बांधी जाएगी। टोल प्लाजा भी फ्री किए जाएंगे। शुक्रवार को मंच को संबंधित करते हुए प्रदर्शनकारी नेता तेजेंद्र सिंह विर्क ने प्रदर्शनकारियों से अधिक संख्या में केएमपी पहुंचने की अपील की।

उन्होंने बताया कि केएमपी पर दोपहर 12 बजे से लेकर शाम चार बजे तक आवागमन बाधित किया जाएगा। इसके साथ ही केएमपी टोल को भी इस अवधि के लिए फ्री कराया जाएगा। प्रदर्शनकारियों ने एक पंचायत के दौरान पूर्व में शनिवार को केएमपी को बाधित करने व टोल फ्री करने की घोषणा की थी। कई सीमाओं से प्रदर्शनकारी शनिवार को केएमपी पहुंचेंगे।