केंद्र ने राज्‍यों को कहा- कर लें मुकम्‍मल तैयारी, टीकाकरण बस चंद दिन दूर, भारत बायोटेक ने पूरा किया अहम पड़ाव 

0 90

देश में टीकाकरण को लेकर तैयारियां अंतिम दौर में हैं। इस बीच केंद्र सरकार ने राज्‍यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों को दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान के लिए मुकम्‍मल तैयारियां सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है। वहीं दूसरी ओर भारत बायोटेक ने अपनी वैक्‍सीन कोवैक्‍सीन (COVAXIN) के तीसरे चरण के ट्रायल के लिए स्वयंसेवकों के नामांकन की प्रक्रिया को सफलता पूर्वक पूरा कर लिया है।

ऐसे होगी आपूर्ति

समाचार एजेंसी एएनआइ ने केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के हवाले से बताया है कि केंद्र शासित प्रदेशों समेत 19 राज्यों को आपूर्तिकर्ताओं के माध्यम से कोरोना वैक्सीन मिलेगी जबकि बाकी 18 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को सरकारी मेडिकल स्टोर डिपो (Government Medical Store Depot, GMSDs) के जरिए वैक्सीन मिलेगी। केंद्र की ओर से भेजे गए पत्र के मुताबिक, 19 केंद्र शासित प्रदेशों और राज्‍यों को वैक्‍सीन की पहली खेप जल्‍द मिल जाएगी।


इन्‍हें आपूर्तिकर्ताओं के जरिए होगी आपूर्ति

रिपोर्ट के मुताबिक, जिन 19 राज्‍यों और केंद्र शासित प्रदेशों को आपूर्तिकर्ताओं के माध्यम से जल्‍द वैक्‍सीन मिलनी है उनमें आंध्र प्रदेश, असम, बिहार, छत्तीसगढ़, दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, झारखंड, कर्नाटक, केरल, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, ओडिशा, पंजाब, राजस्थान तमिलनाडु, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल शामिल हैं। केंद्र सरकार की ओर से भेजे गए पत्र में कहा गया है कि वैक्‍सीन की आपूर्ति चिन्हित कंसाइन पॉइंट्स पर की जाएगी।

इन्‍हेंं मेडिकल स्टोर डिपो से होगी आपूर्ति

बाकी जिन 18 राज्‍यों और केंद्र शासित प्रदेशों को सरकारी मेडिकल स्टोर डिपो (Government Medical Store Depot, GMSDs) के जरिए वैक्सीन मिलेगी उनमें अंडमान निकोबार द्वीप, अरुणाचल प्रदेश, चंडीगढ़, दादर और नगर हवेली, दमन और दीव, गोवा, हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, लक्षद्वीप, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नगालैंड, पुडुचेरी, सिक्किम, त्रिपुरा और उत्तराखंड शामिल हैं।


जरूरी अग्रिम तैयारियां पूरी

केंद्र सरकार ने राज्यों से कहा है कि वैक्सीन की पहली खेप हासिल करने के लिए जरूरी अग्रिम तैयारियां पूरी कर लें। रिपोर्ट के मुताबिक, राज्‍य जब वैक्‍सीन हासिल कर लेंगे तब जिलों को इसका वितरण होने लगेगा। जिलों में वैक्‍सीन का वितरण रजिस्‍टर्ड लाभार्थियों के अनुसार किया जाएगा। इसके लिए अलग से संवाद किया जाएगा। वैक्‍सीन वितरण के लिए भारतीय वायु सेना और कमर्शियल एयरलाइंस का इस्‍तेमाल किया जाएगा।


भारत बायोटेक पूरा किया अहम पड़ाव

इस बीच भारत बायोटेक ने कहा है कि उसने अपनी वैक्‍सीन कोवैक्‍सीन के तीसरे चरण के ट्रायल के लिए स्वयंसेवकों के नामांकन की प्रक्रिया को सफलतापूर्वक पूरा कर लिया है। भारत बायोटेक (Bharat Biotech) ने तीसरे चरण का ट्रायल नवंबर के मध्य में शुरू किया था। शुरुआत में ट्रायल के लिए 13 हजार स्वयंसेवकों की भर्ती की गई थी। भारत बायोटेक ने तीसरे चरण के लिए कुल 26 हजार लोगों की भर्ती किए जाने की बात कही थी।