केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री का ऐलान, कोविड वारियर्स के बच्चों के लिए एमबीबीएस में 5 सीटें होंगी रिजर्व

96


देश में कोरोना वायरस महामारी से सबसे आगे की पंक्ति में रह कर लड़ रहे कोविड वारियर्स के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डा. हर्षवर्धन ने बड़ी घोषणा की है। उन्होंने कहा है कि सेन्ट्रल पूल MBBS / BDS की 5 सीटें कोविड वारियर्स के बच्चों के लिए आरक्षित रहेंगी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने यह ऐलान करते हुए कहा है कि मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस/बीडीएस की सीटों में पांच सीट कोविड वॉरियर के बच्चों के लिए रिजर्व रहेंगी। उन्होंने कहा कि कोविड वारियर्स वह हैं, जो जमीन पर कार्य करने वाले आशा कार्यकर्ता और अस्पतालों में कार्य करने वाले डॉक्टर या नर्स हैं। इनके बच्चों के लिए नेशनल कोटा में 5 सीटें आरक्षित की गई हैं।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि इस कदम के द्वारा कोविड पॉजिटिव रोगियों के उपचार और प्रबंधन में कोविड योद्धाओं द्वारा किए गए महान योगदान को प्रतिष्ठित और सम्मानित करने का लक्ष्य रखा गया है। मंत्री ने कहा कि राज्य / केंद्र शासित प्रदेश सरकार इस श्रेणी के लिए पात्रता को प्रमाणित करेंगे। उम्मीदवारों का चयन MCC के ऑनलाइन आवेदन के माध्यम से राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (NTA) द्वारा आयोजित NEET 2020 में प्राप्त रैंक के आधार पर किया जाएगा।


स्वास्थ्य मंत्रालय ने सेन्ट्रल पूल एमबीबीएस / बीडीएस सीटों के तहत सत्र 2020-21 के लिए ‘वार्ड ऑफ कोविड वॉरियर्स’ के उम्मीदवारों के सेलेक्शन और एडमिशन के लिए नई केटेगरी को मंजूरी दी है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि यह उन सभी कोविड वारियर्स के प्रति हमारी प्रतिबद्धता है, जिन्होंने बिना स्वार्थ के और डटकर देश की सेवा की है। उन्होंने आगे कहा कि इस जानलेवा वायरस से छोटी-छोटी सावधानियां बरत कर बचा जा सकता है। आप अच्छी क्वालिटी का फेस मास्क पहन कर, सोशल डिस्टेंसिंग रखकर और हाथों की सफाई का ध्यान रखकर अपनी रक्षा करने के साथ-साथ दूसरों को भी प्रेरित कर सकते हैं।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.