करोड़ों लोगों का इंतजार खत्म, जानें- कितने बजे शुरू होगा सूर्य ग्रहण और कब होगा खत्म, क्या करें और क्या नहीं?

0 56


साल 2020 के अंतिम सूर्य ग्रहण को लेकर देश-दुनिया के करोड़ों खगोल प्रेमियों को इंतजार खत्म होने वाला है। साल का दूसरा और अंतिम सूर्य ग्रहण अगले कुछ घंटों यानी 14 और 15 दिसंबर को लगेगा। इससे पहले पिछले महीने 30 नवंबर को चंद्र ग्रहण भी लगा था, लेकिन यह दिल्ली-एनसीआर समेत पूरे भारत में नहीं दिखाई दिया था। ठीक इसी तरह 14-15 दिसंबर को लगने वाला सूर्य ग्रहण भी देश में कहीं दिखाई नहीं देगा। यह इस वर्ष का अंतिम सूर्य ग्रहण है, इससे पहले सूर्य ग्रहण 21 जून को लगा था। अगले वषर्ष 2021 में दो सूर्य ग्रहण पड़ेंगे। पहला 10 जून व दूसरा चार दिसंबर 2021 को होगा।

मंदिर खुले रहेंगे

मंदिरों में सूर्य ग्रहण के दौरान धर्म-कर्म, पूजा-पाठ यथावत होते रहेंगे। हालांकि शहर के पुजारियों का कहना है कि भले ही ग्रहण का खास असर नहीं होगा, लेकिन फिर भी गर्भवती महिलाओं को इस अवधि में घर से बाहर निकलने से बचना चाहिए। साथ ही शुभ कार्य व मांगलिक कार्य सहित शादी विवाह करने से भी परहेज करें।


करीब 5 घंटे तक रहेगा सूर्यग्रहण

नोएडा सेक्टर-55 सी ब्लाक शिव शक्ति मंदिर के पुजारी राम नारायण शास्त्री ने बताया कि इस ग्रहण का सूतक न लगने से मंदिरों में पूजा-पाठ सहित धार्मिक कामकाज होंगे। पूजा-अर्चना करते समय कोविड-19 को लेकर लागू सुरक्षा नियमों के पालन होगा। उन्होंने बताया कि सोमवार को लगने वाला यह सूर्य ग्रहण शाम को 7 बजकर 3 मिनट पर शुरू होगा। तकरीबन 5 घंटे तक चलने वाला ग्रहण मंगलवार रात 12 बजकर 23 मिनट पर खत्म होगा।


अमावस्या की रात को खंडग्रास सूर्य ग्रहण

बता दें किहिंदू पंचांग की गणना के मुताबिक, अगले 24-48 घंटे के दौरान लगने वाला सूर्य ग्रहण वृश्चिक राशि में और ज्येष्ठा नक्षत्र में होगा। ज्योतिषियों के मुताबिक, 14 और 15 दिसंबर को लगने वाला सूर्य ग्रहण भारतीय समयानुसार, 14 दिसंबर की शाम 7 बजकर 3 मिनट से शुरू होगा और सूर्य ग्रहण की समाप्ति 15 दिसंबर की रात को 12 बजकर 23 मिनट होगी। दरअसल, 14-15 दिसंबर अमावस्या की रात को खंडग्रास सूर्य ग्रहण होगा।


इस साल लगे कुल 6 चंद्र-सूर्य ग्रहण

आपको बता दें कि वर्ष 2020 में कुल 6 चंद्र और सूर्य ग्रहण लगे, जिसमें 4 चंद्र ग्रहण और 2 सूर्य ग्रहण लगे। इसमें 14 दिसंबर को लगने वाला सूर्य ग्रहण भी शामिल है। इससे पहला साल का पहला सूर्य ग्रहण 21 जून 2020 को लगा था और अंतिम सूर्य ग्रहण अब 14-15 दिसंबर को लगेगा। यह साल का अंतिम सूर्य ग्रहण है, इसलिए ज्योतिषियों के साथ खगोल शास्त्रियों की भी इस पर खास नजर रहेगा।


कितनी देर का होगा सूर्य ग्रहण

भारतीय समय के मुताबिक, 14 दिसंबर की रात में सूर्य ग्रहण लगेगा, इसलिए दिल्ली-एनसीआर समेत पूरे भारत में कहीं भी दिखाई नहीं देगा। ज्योतिषियों के मुताबिक, सूर्य ग्रहण 14 दिसंबर की शाम 7:03 बजे से शुरू होकर रात 12:23 बजे तक यानी तकरीबन 5 घंटे 20 मिनट तक चलेगा।

कहां-कहां दिखाई देगा सूर्य ग्रहण


14-15 दिसंबर को लगने वाला सूर्य ग्रहण दक्षिण अमेरिका, दक्षिण अफ्रीका और प्रशांत महासागर के कुछ हिस्सों में ही देखा जा सकेगा। दिल्ली-एनसीआर समेत यह सूर्य ग्रहण पूरे भारत में कहीं भी नहीं देखा जा सकेगा।

कब होता है सूर्य ग्रहण

विज्ञान के मुताबिक, सूर्य ग्रहण वह स्थिति है, जब जब चंद्रमा, पृथ्वी और सूर्य के बीच से गुजरता है। इस दौरान चंद्रमा सूर्य की रोशनी को आंशिक या पूर्ण रूप से अपने पीछे ढंकते हुए उसे पृथ्वी तक पहुंचने से रोक लेता है। ऐसी स्थिति में रोशनी के नहीं पड़ने पर पृथ्वी पर अंधेरा छा जाता है। इसी खगोलीय घटना को सूर्य ग्रहण कहा जाता है।