ऑस्ट्रेलिया को लगा पहला झटका, नटराजन ने शॉट को किया आउट

0 88


भारत और मेजबान ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन मैचों की टी20 सीरीज का दूसरा मुकाबला सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (एससीजी) पर खेला जा रहा है। इस मैच में भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया है। ऑस्ट्रेलियाई टीम पहले बल्लेबाजी करने उतरी और खबर लिखे जाने तक 4.3 ओवर में 1 विकेट के नुकसान पर 47 रन बना लिए हैं। कप्तान मैथ्यू वेड के साथ स्टीव स्मिथ क्रीज पर मौजूद थे।

भारतीय टीम ने इस मुकाबले के लिए तीन बदलाव टीम में किए हैं। रवींद्र जडेजा की जगह युजवेंद्र चहल को मौका दिया गया है, जबकि मोहम्मद शमी को आराम देकर उनकी जगह शार्दुल ठाकुर टीम में आए हैं। वहीं, मनीष पांडे को थोड़ी चोट लगी है। उनके स्थान पर श्रेयस अय्यर को मौका मिला है। उधर, ऑस्ट्रेलियाई कप्तान आरोन फिंच चोटिल हैं, जबकि जोश हेजलवुड को आराम दिया गया है। फिंच के स्थान पर मार्कस स्टोइनिस और हेजलवुड की जगह डैनियल सैम्स को जगह मिली है। मिचेल स्टार्क की जगह एंड्रयू टाय टीम में चुने गए हैं।

ऑस्ट्रेलिया की पारी, वेट की तूफानी शुरुआत

भारत की प्लेइंग इलेवन

शिखर धवन, केएल राहुल (विकेटकीपर), विराट कोहली (कप्तान), संजू सैमसन, श्रेयस अय्यर, हार्दिक पांड्या, वॉशिंग्टन सुंदर, युजवेंद्र चहल, शार्दुल ठाकुर, टी नटराजन और दीपक चाहर।

ऑस्ट्रेलिया की प्लेइंग इलेवन

मार्कस स्टोइनिस, डार्सी शॉर्ट, स्टीव स्मिथ, ग्लेन मैक्सवेल, मैथ्यू वेड (कप्तान/विकेटकीपर), मोसेस हेनरिक्स, सीन एबॉट, एंड्रयू टाय, मिचेल स्वेप्सन, एडम जंपा और डैनियल सैम्स।


ये मुकाबला ऑस्ट्रेलिया के लिए करो या मरो का है, जबकि भारतीय टीम इस मैच को जीतकर सीरीज को कब्जाना चाहेगी। ऐसे में ये मुकाबला दिलचस्प होने वाला है। सिडनी की पिच पर उम्मीद की जा रही है कि वनडे मैचों की तरह टी20 मैचों में भी हाई-स्कोरिंग मुकाबले देखने को मिलेंगे। ऐसे में ऑस्ट्रेलिया के लिए वनडे की जीत मानसिक बढ़त हो सकती हैं, लेकिन लगातार दो मैच हारने के बाद कंगारू टीम के हौसले भी पस्त हो गए हैं। इसके अलावा ऑस्ट्रेलियाई टीम चोटों से भी परेशान है, क्योंकि टीम के सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर, पैट कमिंस, मार्कस स्टोइनिस टीम का हिस्सा नहीं हैं। मिचेल स्टार्क भी बाहर हो गए हैं।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच अब तक 22 टी20 इंटरनेशनल मैच खेले जा चुके हैं, जिनमें से 12 मुकाबले भारत ने जीते हैं, जबकि 8 बार बाजी कंगारू टीम ने मारी है। दोनों टीमों के बीच 2 मुकाबले बेनतीजा रहे हैं। टी20 क्रिकेट में भारतीय टीम का रिकॉर्ड वैसे भी शानदार है। यहां तक कि भारत ने ऑस्ट्रेलिया में एक भी टी20 सीरीज नहीं हारी है। ऐसे में भारत का मनोबल सातवें आसमान पर होगा।