ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट में विराट से ज्यादा प्रभावी रहे हैं पुजारा, ठोक चुके हैं दोहरा शतक 

0 100

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के तहत चार टेस्ट मैचों की सीरीज खेली जाएगी। इस टेस्ट सीरीज में भारत के लिए एक बड़ा सेटबैक ये है कि विराट कोहली पहला मैच खेलने के बाद भारत वापस लौट आएंगे, ऐसे में टीम के अन्य बल्लेबाजों पर जैसे कि चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, रोहित शर्मा जैसे बल्लेबाजों पर जिम्मेदारी ज्यादा होगी क्योंकि इन्हें ऑस्ट्रेलिया में खेलने का तजुर्बा है। अब जरा पिछले दौरे को याद करते हैं जब टीम इंडिया के मध्यक्रम के बल्लेबाज पुजारा ने कंगारू टीम के खिलाफ टेस्ट सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाए थे और टीम इंडिया की एतिहासिक जीत के सबसे बड़े नायक रहे थे। उन्होंने पिछले दौरे पर 512 रन बनाए थे जिसमें तीन शतक भी शामिल थे।

एक बार फिर से पुजारा पर बड़ी जिम्मेदारी होगी और ये तब और भी बढ़ जाती है जब विराट टीम में नहीं होंगे। वैसे चेतेश्वर पुजारा का ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में अब तक का रिकॉर्ड काफी अच्छा रहा है। विराट की तुलना में उन्होंने ज्यादा औसत से इस टीम के खिलाफ रन बनाए हैं और उनके नाम पर एक दोहरा शतक भी है, जबकि कोहली ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अब तक एक भी दोहरा शतक नहीं लगा पाए हैं।

पुजारा ने कंगारू टीम के खिलाफ 16 टेस्ट मैचों की 29 पारियों में 60.07 की औसत से 1622 रन बनाए हैं और उनका बेस्ट स्कोर 204 रन रहा है। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज में अब तक 5 शतक लगाए हैं। वहीं विराट की बात करें तो उन्होंने इस टीम के खिलाफ 19 मैचों की 34 पारियों में 48.60 की औसत से 1604 रन बनाए हैं और उनका बेस्ट स्कोर 169 रहा है। विराट ने कंगारू टीम के खिलाफ सात शतक लगाए हैं। यहां साफ तौर पर पता चलता है कि पुजारा का प्रदर्शन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज में ज्यादा अच्छा रहा है।

आपको बता दें कि चार मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मैच 17 दिसंबर से खेला जाएगा। इस सीरीज से पहले जोस हेजलवुड ने भी साफ तौर पर कहा था कि टेस्ट सीरीज में कंगारू टीम के लिए विराट से ज्यादा खतरनाक पुजारा साबित होंगे। वहीं टीम इंडिया को एक बार फिर से इंतजार रहेगा कि चेतेश्वर पुजारा पिछले दौरे जैसा प्रदर्शन करें और टीम इंडिया को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाएं।