एमबीपीजी कालेज में अब वाहन पार्किंग को लेकर बखेड़ा

0 62


हल्द्वानी: एमबीपीजी कालेज में छात्र नेताओं और कालेज प्रशासन के बीच मनमुटाव बढ़ता चला जा रहा है। कालेज प्रशासन की ओर से छह छात्रों के खिलाफ नामजद तहरीर दिए जाने के बाद अब पार्किंग को लेकर बखेड़ा खड़ा हो गया है। छात्रसंघ ने नोटिस चिपकाए हैं कि बुधवार से छात्र-छात्राओं के वाहन भी अन्य स्टाफ की तरह परिसर में पार्किंग में खड़े होंगे। ऐसा न हुआ तो इसका जिम्मेदार कालेज प्रशासन होगा। इधर, कालेज प्रशासन ने साफ किया है कि जब कालेज ही खुला नहीं है तो कोई छात्र कैसे अपना वाहन पार्किंग में खड़ा करेगा। केवल स्टाफ के वाहन ही अंदर पार्क होंगे।


बीते सोमवार को एमबीपीजी में काफी तनाव की स्थिति रही थी। छात्र को प्राध्यापक द्वारा धक्का दिए जाने से नाराज छात्रों ने जमकर नारेबाजी की थी। मामले में छात्रसंघ अध्यक्ष राहुल धामी ने नाराजगी जताते हुए एलान कर दिया था कि अब सभी छात्र-छात्राओं के वाहन भी परिसर के अंदर बनी पार्किंग में स्टाफ के वाहनों के साथ खड़े होंगे। इसके लिए छात्रसंघ की ओर से बाकायदा कालेज परिसर में नोटिस भी चस्पा कर दिए गए हैं। जिनमें कहा गया है कि यदि कालेज गेट के बाहर खड़े किसी भी छात्र-छात्रा के वाहन को कोई नुकसान होता है या चालान कटता है तो इसकी जिम्मेदारी कालेज प्रशासन की होगी। अब कालेज प्रशासन के सामने परेशानी ये खड़ी हो गई है कि कालेज की छोटी सी पार्किंग में कैसे हजारों छात्र-छात्राओं के निजी वाहन पार्क किए जाएंगे। लंबे समय से कालेज के छात्र-छात्राओं के वाहनों के लिए पार्किंग बनाने की मांग कालेज प्रशासन की जा रही थी। लेकिन प्रशासन ने कोई ध्यान नहीं दिया। ऐसे में अब छात्र-छात्राओं के वाहन भी कालेज की पार्किंग में खड़े होंगे। नोटिस चस्पा कर दिए गए हैं।

राहुल धामी, अध्यक्ष छात्रसंघ एमबीपीजी कालेज कालेज में पठन-पाठन कार्य शुरू नहीं हुआ है साथ ही प्रवेश प्रक्रिया भी आनलाइन चल रही है। ऐसे में कालेज में छात्र-छात्राओं के आने का सवाल ही नहीं है। केवल स्टाफ के वाहनों को ही अंदर पार्किंग की अनुमति दी जाएगी।

डा. बीआर पंत, प्रभारी प्राचार्य एमबीपीजी कालेज