इंग्लैंड की टीम ने बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड, भारतीय टीम को इससे लेनी चाहिए सीख

0 47


भारत और इंग्लैंड के बीच चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम में पहला टेस्ट मैच खेला गया था। इस मैच में भारतीय गेंदबाजों ने एक्स्ट्रा के रूप में 52 रन दोनों पारियों में दिए थे। उसी मैदान पर दूसरे टेस्ट मैच में इंग्लैंड की टीम ने एक विश्व रिकॉर्ड कायम किया है। इंग्लैंड की टीम ने एक्स्ट्रा के रूप में ही टेस्ट क्रिकेट में विश्व रिकॉर्ड बनाकर पाकिस्तान को पीछे छोड़ा है।

दरअसल, इंग्लैंड की क्रिकेट टीम ने रविवार को चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम में भारत के खिलाफ खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच में एक भी अतिरिक्त रन नहीं दिया। यही वजह रही कि इंग्लिश टीम ने विश्व रिकॉर्ड बनाया है। भारत ने पहली पारी में 329 रन बनाए और सभी रन भारतीय बल्लेबाजों के बल्ले से ही निकले। इस तरह ये उच्चतम स्कोर है, जिसमें एक भी एक्स्ट्रा का रन शामिल नहीं है। इस तरह ये नया रिकॉर्ड बना है।

पिछला सर्वश्रेष्ठ पाकिस्तान के नाम था, जिसने 1954/55 में लाहौर में खेले गए एक टेस्ट मैच में भारत के खिलाफ 328 रन बनाए थे और एक भी अतिरिक्त रन नहीं दिया था। भारत ने मैच के पहले दिन 6 विकेट पर 300 रन बनाए थे, लेकिन चेन्नई टेस्ट के दूसरे दिन केवल 29 रनों पर मेजबान टीम ने अपने अंतिम 4 विकेट खो दिए। रिषभ पंत भारत के लिए 58 रन बनाकर नाबाद रहे, लेकिन उनको बाकी बल्लेबाजों से साथ नहीं मिला।


मेजबान टीम के लिए रोहित शर्मा ने सर्वाधिक 161 रन बनाए, जबकि अजिंक्य रहाणे (67) और रिषभ पंत (58) ने शानदार बल्लेबाजी की। मोइन अली इंग्लैंड के सबसे सफल गेंदबाज रहे, जिन्होंने 4 विकेट 128 रन देकर लिए, जबकि ऑली स्टोन ने चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम में 47 रन देकर 3 विकेट चटकाए। इंग्लैंड चार टेस्ट मैचों की सीरीज में 1-0 से आगे है, क्योंकि उसने शुरुआती मैच 227 रन से जीता था।