अरविंद केजरीवाल ने सचिवालय में फहराया तिरंगा

108


दिल्ली सचिवालय में सोमवार सुबह आयोजित कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल झंडा ने फहराया। इस मौके पर उन्होंने बेहतर सेवा देने वाले जेल सहित कुछ अधिकारियों को सम्मानित भी किया। इसके बाद जनता को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि कोरोना के चलते छत्रसाल स्टेडियम की जगह इस बार दिल्ली सचिवालय में बहुत छोटे स्तर कार्यक्रम हुआ। इस बार स्कूली बच्चों को शामिल नहीं किया गया है और न ही काेई सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित हुआ।

अपने संबोधन में मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें उम्मीद है कि इस साल काेरोना महामारी से छुटकारा मिलेगा। पिछले एक साल से हम कोरोना से जूझ रहे हैं। दिल्ली वालों ने बहुत परेशानी झेली है। 11 नवंबर को कोरोना के एक दिन में साढ़े 8 हजार केस आए। ये दुनिया के किसी भी शहर से अधिक थे। उन्होंने कहा कि इसके कई कारण हैं। दूसरे स्थानों से लोग दिल्ली में आए हैं, मगर दिल्ली वालों ने मजबूती से इसका सामना किया है। हमारी सरकार ने बेहतर सेवाएं दी हैं। हमारी सरकार ने पिछले पांच साल में स्वास्थ्य के क्षेत्र में जो काम किया है उससे हम बेहतर सुविधाएं दे पाए हैं।


अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान प्रति माह एक करोड़ लोगों को हमने सूखा राशन दिया। 10 लाख लोगों को प्रतिदिन भोजन दिया। ऑटो टैक्सी वालों को 5 हजार की सहायता राशि दी। जहां भी सूचना मिली दिल्ली सरकार ने लोगों को मदद पहुंचाई। 2 जुलाई को दुनियस का सबसे पहला प्लाज्मा बैंक दिल्ली में शुरू किया गया। लगभग 5 हजार लोगों को प्लाज्मा दिया गया है। इन मरीजों की जान बचाई गई। कोरोना मरीजों के लिए होम आइसोलेशन की सुविधा को शुरू किया गया। 3 लाख लोग हाेम आइसोलेशन में ठीक हुए। बाद में इसे देश ही नहीं दुनिया के कई देशों ने अपनाया। अपने अस्पतालों में भी हमने मरीजों के लिए बेहतर इंतजाम किया। प्राइवेट अस्पतालों को भी साथ लिया।


गौरतलब है कि कोरोना वायरस संक्रमण के चलते ही दिल्ली के राजपथ पर आयोजित कार्यक्रम में भी मेहमानों की संख्या सीमित रहेगी। यहां तक कि दिल्ली में आतंकी हमलों की आशंका के मद्देनजर सुरक्षा चाकचौबंद की गई है। खासकर दिल्ली-उत्तर प्रदेश और हरियाणा के बॉर्डर पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। भीड़भाड़ वाले इलाकों और बाजारों में सघन जांच की जा रही है।

इससे पहले रविवार को राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बेटियों का हौसला बढ़ाते हुए उन्हें शुभकामनाएं दी हैं। मुख्यमंत्री ने रविवार को ट्वीट किया, ‘हमारी बेटियां हमारा अभिमान हैं, उन्हें पढ़ा-लिखाकर आगे बढ़ाएं, उनको प्रोत्साहित करें। हमारी बेटियां पूरी दुनिया में देश का नाम रोशन करने की काबिलियत रखती हैं, राष्ट्रीय बालिका दिवस पर देश की सभी बेटियों को बहुत-बहुत शुभकामनाएं।’ प्रत्येक वर्ष 24 जनवरी को राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाया जाता है। इसकी शुरुआत 2008 से हुई थी। इसको मनाने का प्रमुख उद्देश्य महिलाओं और बच्चियों के साथ होने वाले भेदभाव के प्रति लोगों को जागरूक करना है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.