अरविंद केजरीवाल के उपवास को ढोंग बताने पर प्रकाश जावड़ेकर पर बसे मनीष सिसोदिया

0 48


उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के उस बयान पर हमला बोला है, जिसमें उन्होंने किसानों के समर्थन में अरविंद केजरीवाल के अनशन/उपवास पर बैठने को ढोंग बताया था। केंद्रीय मंत्री के एक ट्ववीट के जवाब में मनीष सिसोदिया ने भी ट्वीट किया है, साथ ही प्रकाश जावड़ेकर को किसानों के मुद्दे पर घेरा है। दिल्ली के शिक्षा मंंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्वीट किया है- ‘वाह प्रकाश जावड़ेकर जी! आप काले क़ानून बनाकर किसानों की खेती बर्बाद करें, प्रदर्शनकारी किसानों को जेल में डालने की साज़िश करें तो आप हितैषी।’ एक अन्य ट्वीट में शिक्षा मंत्री ने लिखा है- ‘@ArvindKejriwal जी किसानों को जेल में डालने की आपकी साज़िश नाकाम करें, उनकी सेवा करें, समर्थन में उपवास करें तो पाखंडी!’

बता दें कि किसानों के समर्थन में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को उपवास रखा है। इसको लेकर केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने आम आदमी पार्टी के नेता पर निशाना साधा है। प्रकाश जावड़ेकर ने सोमवार को ट्वीट किया- ‘अरविंद केजरीवाल जी, ये आपका पाखण्ड है। आपने पंजाब विधानसभा चुनावों में वादा किया था कि जीतने पर APMC कानून में संशोधन किया जाएगा। नवम्बर 2020 में आपने दिल्ली में कृषि कानूनों को अधिसूचित भी किया और आज आप उपवास का ढोंग कर रहे हो, यह कुछ और नहीं बल्कि पाखण्ड ही है।’

इससे पहले किसानों के समर्थन में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के आवास पर प्रदर्शन करने के लिए घर से निकलने से पहले ही रविवार सुबह पुलिस ने आम आदमी पार्टी के चार विधायकों को हिरासत में ले लिया गया था। दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल के आवास पर पार्टी के 5 समर्थकों के साथ पहुंचीं आतिशी को भी पुलिस ने आगे नहीं जाने दिया। उन्हें भी समर्थकों सहित सिविल लाइन थाने ले जाया गया, जहां से बाद में उन्हें छोड़ दिया गया। बता दें कि आम आदमी पार्टी ने उत्तरी निगम पर दक्षिणी निगम के बकाया 2400 करोड़ रुपये माफ किए जाने का मुद्दा उठाया है। पार्टी इस मामले की सीबीआइ की जांच की मांग कर रही है। इस संबंध में विरोध प्रदर्शन के लिए शनिवार को पुलिस को अनुमति के लिए पत्र सौंपे गए थे, जिसके तहत विधायक राघव चड्ढा, ऋतुराज, कुलदीप कुमार को गृह मंत्री आवास के बाहर प्रदर्शन के लिए जाना था, लेकिन रविवार को सुबह ही चड्ढा सहित अन्य विधायकों को हिरासत में ले लिया गया।