अपने रिकॉर्ड स्तर से 21 फीसद टूट चुका है सोना, क्या यह है निवेश का सही मौका?

0 53


सोने की मौजूदा कीमतें अपने रिकॉर्ड उच्च स्तर से काफी टूट चुकी हैं। भारतीय बाजार की बात करें, तो एमसीएक्स एक्सचेंज पर पांच अप्रैल, 2021 के वायदा का सोने का भाव बीते सप्ताह 44,750 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था। इसके अलावा चार जून, 2021 वायदा के सोने का भाव एमसीएक्स पर बीते हफ्ते 45,107 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था। वहीं, वैश्विक स्तर की बात करें, तो बीते हफ्ते कॉमेक्स पर सोने का वायदा भाव 1719.80 डॉलर प्रति औंस पर और सोने का वैश्विक हाजिर भाव 1727.11 डॉलर प्रति औंस पर बंद हुआ।

अपने उच्च स्तर से काफी टूट गया है सोना

सोने के भाव अपने रिकॉर्ड उच्च स्तर से काफी टूट चुके हैं। सोने के घरेलू वायदा भाव का पिछला उच्च स्तर सात अगस्त, 2020 को देखने को मिला था। इस सत्र में सोने का वायदा भाव करीब 57,100 रुपये प्रति दस ग्राम पर बंद हुआ था। इस तरह सोने का वायदा भाव अपने रिकॉर्ड उच्च स्तर से 12,350 रुपये प्रति 10 ग्राम टूट चुका है। सोने के भाव में यह भारी गिरावट सिर्फ सात महीने के अंतराल में ही देखने को मिल गई है।


क्या यह है निवेश का सही मौका

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के कमोडिटीज प्रमुख हरीश वी ने बताया कि एमसीएक्स गोल्ड अपने रिकॉर्ड उच्च स्तर से 21 फीसद से अधिक टूट चुका है और सोने की वैश्विक कीमत अपने रिकॉर्ड उच्च स्तर से 17 फीसद टूट चुकी है। वैश्विक अर्थव्यवस्था में सुधार की उम्मीद, मजबूत यूएस डॉलर और इक्विटी जैसे जोखिम वाले एसेट्स में निवेशकों की मांग के चलते सोने की कीमतें गिर रही हैं। हरीश ने कहा कि लघु से मध्यम अवधि में सोने के लिए दृष्टिकोण गिरावट की तरफ है। उन्होंने कहा कि जब तक कीमतें 1760 डॉलर प्रति औंस से नीचे रहेंगी, तब तक सोने में नकारात्मक सेंटीमेंट जारी रह सकता है।


उन्होंने निवेशकों को सलाह दी है कि इस समय सोने में लंबी अवधि के लिए निवेश या नई खरीदारी से बचना बेहतर है। उन्होंने कहा कि चूंकि अभी सोने में गिरावट का दौर है, इसलिए आदर्श रणनीति यह रहेगी कि सोने में निवेश से दूर रहें और कीमतों में और अधिक गिरावट का इंतजार करें।